पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गफलत:नैक की साइट पर एमजीएस विवि को बी+ ग्रेड से भ्रम क्योंकि निरीक्षण में सी मिल चुका

बीकानेर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यह नैक की वह रिपोर्ट जो अप्रैल में आई थी जिसमें एमजीएसयू को सी ग्रेड मिला था। - Dainik Bhaskar
यह नैक की वह रिपोर्ट जो अप्रैल में आई थी जिसमें एमजीएसयू को सी ग्रेड मिला था।
  • नैक की वेबसाइट पर अपलाेड है पुराने व नए दाेनाें ग्रेड, विवि करेगा यूजीसी से पत्राचार

एमजीएस के नैक निरीक्षण की रिपोर्ट को लेकर मंगलवार को असमंजस की स्थिति बन गई क्योंकि मंगलवार को नैक की वेबसाइट पर विश्वविद्यालय को बी प्लस ग्रेड के साथ दिखाया गया है। हालांकि इसकी अधिकृत सूचना विश्वविद्यालय के पास अब तक नहीं पहुंची क्योंकि अप्रैल में ही विश्वविद्यालय के नैक ग्रेड की रिपोर्ट विश्वविद्यालय के पास आ चुकी थी जिसमें सी ग्रेड विश्वविद्यालय को मिला था।

दरअसल विश्वविद्यालय का स्टाफ नैक की वेबसाइट का निरीक्षण कर रहा था। अचानक उसकी नजर नैक की रिपोर्ट पर गई। जहां महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय का नाम लिखा था। जब उसके आगे देखा तो वहां उसका ग्रेड बी प्लस दिखाया गया जिसमें सीजीपीए 2.64 दिखाया गया। हालांकि नैक की वेबसाइट पर विश्वविद्यालय का पुराना सी ग्रेड भी दिखाया जा रहा है जिसमें सीजीपीए 1.67 दिखाया जा रहा है। जैसे ही इस बात की चर्चा जोर पकड़ ली तो विश्वविद्यालय के तमाम अधिकारी उस वेबसाइट का निरीक्षण करने लगे और स्क्रीन शॉट लिया।

भास्कर के पास भी वह दोनों ही रिपोर्ट के स्क्रीनशॉट मौजूद हैं। विश्वविद्यालय के प्रवक्ता डॉ. बिट्ठल बिस्सा का कहना है कि हमें यूजीसी की ओर से अधिकृत रिपोर्ट अप्रैल में मिल चुकी थी। मंगलवार को जो ग्रेड दिखाया गया उस पर हम नैक और यूजीसी से पत्राचार करेंगे। स्थिति स्पष्ट होने के बाद ही कुछ अधिकृत रूप से कह सकते हैं। कई बार वेबसाइट पर त्रुटि भी हो सकती है।

इस रिर्पोट में बी प्लस ग्रेड दिखाया गया
इस रिर्पोट में बी प्लस ग्रेड दिखाया गया
खबरें और भी हैं...