• Hindi News
  • Politics
  • Minister Bhanwar Singh Said Bhagwati Prasad Active And Good Collector, RAS Association And Employees Also Protested Against Panchayati Raj Minister Meena

बीकानेर कलेक्टर के बचाव में आए मंत्री भंवर सिंह:बोले-भगवती प्रसाद एक्टिव और अच्छे कलेक्टर, आरएएस एसोसिएशन भी मंत्री रमेश मीणा के विरोध में उतरी

बीकानेर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी संभागीय आयुक्त को ज्ञापन देते हुए। - Dainik Bhaskar
राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी संभागीय आयुक्त को ज्ञापन देते हुए।

पंचायती राज मंत्री रमेश मीणा की ओर से सोमवार को बीकानेर कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल को एक कार्यक्रम से बाहर निकालने के बाद अब मामला और तूल पकड़ गया। मंत्री भंवर सिंह का कलेक्टर ने फोन उठाया था अब वह भी कलेक्टर के बचाव में आ गए हैं। भंवर सिंह बोले, वे एक्टिव और भले आदमी हैं। दूसरी ओर बीकानेर आरएएस एसोसिएशन, कर्मचारी यूनियन, उद्योग संघ समेत तमाम संस्थाएं और राजनीतिक पार्टी मंत्री रमेश मीणा के विरोध में उतर आए। नोखा से भाजपा विधायक बिहारी लाल ने भी मंत्री के खिलाफ सीएम को पत्र लिखा है।

आरोप-मंत्री मीणा ने अफसरों को भी घोड़ा कहा

पहली प्रतिक्रया मंत्री भंवर सिंह भाटी की आई जिनसे बात करते वक्त मीणा ने कलेक्टर काे बाहर निकाला था। भाटी बोले- कलेक्टर भले और एक्टिव आदमी हैं। जिले में वह सक्रिय रहते हैं। मेहनती हैं। राजस्थान प्रशासनिक सेवा के 19 अधिकारी मंगलवार को संभागीय आयुक्त नीरज के पवन के पास पहुंचे और मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन सौंपा। अधिकारियों ने कलेक्टर को बेइज्जत करने की निंदा की। उन्होंने कहा मीटिंग में भी मंत्री मीणा ने अधिकारियों को घोड़ा और घोड़ी की संज्ञा दी थी।

सभी अधिकारियों ने मांग की कि मंत्री मीणा सार्वजनिक रूप से कलेक्टर से माफी मांगे और भविष्य में इस तरह की घटना ना होने का भी आश्वासन दें। आरएएस ओमप्रकाश, ए.एच. गौरी, अजीतसिंह राजावत, गोपालराम विरदा, पंकज शर्मा, यशपाल आहूजा समेत तमाम अधिकारी शामिल थे।

मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष से मीणा की शिकायत करेंगे जिला प्रमुख

पंचायती राज्य मंत्री न सिर्फ अधिकारियों और कर्मचारियों के निशाने पर हैं बल्कि उनकी ही पार्टी के बीकानेर जिला प्रमुख मोडा राम मेघवाल भी मैदान में उतर आए हैं। सोमवार को बीकानेर कलेक्ट्रेट में मीटिंग के दौरान मीणा ने मेघवाल पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने और उनके खिलाफ नोटिस जारी करने की चेतावनी दी थी। भास्कर से बातचीत में जिला प्रमुख मोडा राम मेघवाल ने कहा कि एक मंत्री की भाषा इस तरह की नहीं होती। उन्होंने कलेक्टर का बचाव करते हुए कहा कि भगवती प्रसाद साधारण व्यवहार के व्यक्ति हैं और सभी की सुनवाई करते हैं।

मैं जनप्रतिनिधि हूं और मुझे मेरे लिए मंत्री ने जिस स्तर की भाषा उपयोग की वह भी निंदनीय है। उन्होंने कहा कि वे रमेश मीणा के खिलाफ अपनी शिकायत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा से करेंगे। दरअसल ग्रेवल सड़क को लेकर मंत्री ने क्वालिटी पर सवाल उठाया था जिस पर जिला प्रमुख ने सफाई दी कि यहां तेज हवाएं चलती हैं इसलिए मिट्टी उड़ जाती है। तब मंत्री मीणा ने जिला प्रमुख को कहा था कि आपकी भी इसमें मिली भगत है।

खबरें और भी हैं...