बीकानेर की लापरवाह जनता, सख्त प्रशासन:विवाह समारोह में 100 से अधिक मेहमान, सील हुआ भवन; ज्यादा ग्राहकों को देख दो रेस्टोरेंट पर पुलिस ने जड़ा ताला

बीकानेर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दुकान को सील करते पुलिसकर्मी। - Dainik Bhaskar
दुकान को सील करते पुलिसकर्मी।

बीकानेर में कोरोना रोगियों के बढ़ने के साथ ही प्रशासन की सख्ती भी तेज होती जा रही है। गुरुवार को एक विवाह समारोह में 100 से अधिक मेहमानों की उपस्थिति पर भवन को सील कर दिया गया, तो मिठाई की दुकान पर ग्राहकों को देखकर उसे भी सील कर दिया। प्रशासन के बार-बार आग्रह के बाद भी विवाह आयोजनों में 100 से अधिक लोगों की उपस्थिति कोरोना संक्रमण का सबसे बड़ा कारण बनता जा रहा है।

सीताराम भवन पर ताला लगाकर नोटिस चस्पा करती अधिकारी।
सीताराम भवन पर ताला लगाकर नोटिस चस्पा करती अधिकारी।

ये गलत बात है

यहां जस्सूसर गेट पर स्थित सीताराम भवन के भाग-1 में विवाह समारोह चल रहा था। गुरुवार को इनफोर्समेंट टीम को सूचना मिली की विवाह में 100 से अधिक लोग हैं। उपखण्ड अधिकारी मीनू वर्मा ने बताया कि जिला कलेक्टर के निर्देश पर बुधवार को ज्वाइंट इनफोर्समेंट टीम द्वारा किए गए संयुक्त निरीक्षण के दौरान सीताराम भवन के भाग-1 में आयोजित एक विवाह समारोह में 100 से अधिक लोग एकत्रित थे। इस प्रकार, अधिकतम 50 मेहमानों की गाइडलाइन की अवहेलना किए जाने पर आयोजकों के विरुद्ध 25 हजार रुपये का जुर्माना लगया गया। इसी श्रृंखला में गुरुवार सुबह उपखण्ड अधिकारी ने सीताराम भवन के भाग-1 को आगामी आदेशों तक सील कर दिया।

ये शर्मनाक है

एक तरफ जहां लोग विवाह में तय से ज्यादा संख्या में घूम रहे हैं, वहीं दुकानदार 'टेक अवे' सुविधा के नाम पर ग्राहकों को सामान बेच रहे हैं। भुट्‌टा चौराहे पर स्थित खंडेलवाल मिष्ठान भंडार पर ग्राहक खरीदारी कर रहे थे। कोरोना गाइड लाइंस के मुताबिक अभी मिठाई की दुकानें नहीं खोली जा सकतीं। रेस्टोरेंट पर भी ग्राहकों को सामान नहीं बेचा जा सकता। टेक एंड अवे के तहत सामान भेजा जा सकता है। इस दुकान पर ग्राहकी चल रही थी। न सिर्फ इस दुकान पर बल्कि नेचर रेस्टोरेंट पर भी ग्राहकी चल रही थी। इन दाेनों दुकानों को सील कर दिया गया। सदर थाना क्षेत्र की एरिया मजिस्ट्रेट तथा महिला एवं बाल विकास विभाग की उपनिदेशक शारदा चौधरी ने बताया कि श्री खण्डेलवाल मिष्ठान भण्डार पर होम डिलीवरी करने वालों के अलावा अन्य लोग भी मौजूद थे, जिनमें से कुछ लोगों ने मास्क भी नहीं लगा रखा था। इस पर तत्काल कार्यवाही करते हुए प्रतिष्ठान को आगामी आदेशों तक सीज कर दिया गया है। इसी प्रकार सादुलगंज स्थित नेचर रेस्टोरेंट में भी गाइड लाइन की अवहेलना पाई गई और इसे भी सील कर दिया गया। इस दौरान वृृत्ताधिकारी (सदर) पवन भदौरिया भी साथ रहे।

लूणकरनसर में दुकान सील कराते अधिकारी। फोटो : रामप्रताप गोदारा
लूणकरनसर में दुकान सील कराते अधिकारी। फोटो : रामप्रताप गोदारा

लूणकरनसर में डीजे और तीन दुकानें सील

बीकानेर के लूणकरनसर कस्बे में भी गुरुवार को एक डीजे के साथ तीन दुकानों को सील कर दिया गया। कोरोना गाइड लाइन की अवहेलना करने पर उपखंड अधिकारी भागीरथ शाख, तहसीलदार शिवकुमार गौड और थानाधिकारी ईश्वर प्रसाद जांगिड ने ये कार्रवाई की। प्रशासन ने मास्क नहीं पहनने पर 52 चालान भी काटे।

खबरें और भी हैं...