पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तैयार है सरकार:अगर आप 45 साल या इससे अधिक आयु के हैं तो मोबाइल व आधार कार्ड के साथ पहुंच जाएं वैक्सीनेशन के लिए

राजस्थान3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बीकानेर में वैक्सीनेशन करवाने में  बुजुर्गों ने काफी रुचि दिखाई थी। - Dainik Bhaskar
बीकानेर में वैक्सीनेशन करवाने में बुजुर्गों ने काफी रुचि दिखाई थी।

चिकित्सा विभाग के करीब पांच सौ कर्मचारी इन दिनों टीकाकरण में जुटे हुए हैं। लेकिन अब 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों का टीकाकरण शुरू होते ही अन्य विभागों के कर्मचारियों को भी इस काम में जुटना पड़ेगा। चिकित्सा विभाग ने इस दिशा में अपना काम शुरू कर दिया है। दरअसल, वर्तमान में टीकाकरण के 100 से ज्यादा सेशन चल रहे हैं। जबकि 45 साल से अधिक आयु के सभी नागरिकों का टीकाकरण करने के लिए इनकी संख्या में बढ़ोतरी करनी होगी।

बीकानेर के RCHO डॉ. राजेश गुप्ता का कहना है कि हमें सेशन की संख्या बढ़ानी पड़ेगी। एक सेशन में पांच कर्मचारियों की जरूरत होती है। ऐसे में अगर सेशन बढ़ाए तो चिकित्सा विभाग के कर्मचारी कम पड़ेंगे। हर सत्र के पांच कर्मचारियों में टीकाकरण करने वाले दो ही कर्मचारी होते हैं, जबकि शेष तीन लिपिकीय व अन्य कार्य के लिए चाहिए। ऐसे में हम जिला प्रशासन को अन्य विभागों के कर्मचारी उपलब्ध कराने का आग्रह कर रहे हैं। एक दल में पांच में दो कर्मचारी चिकित्सा विभाग के होंगे, जबकि शेष तीन कर्मचारी अन्य विभागों के होंगे।

इनकी लग सकती है ड्यूटी
सबसे पहले BLO की ड्यूटी लग सकती है। इसके अलावा आयुर्वेद विभाग के नर्सिंग स्टॉफ व चिकित्सकों की ड्यूटी भी लगाई जा सकती है। लिपिकों की सेवा भी इस कार्य में ली जा सकती है। इस बारे में एक विस्तृत प्रस्ताव चिकित्सा विभाग जिला प्रशासन के समक्ष रख रहा है।

आयुर्वेद औषधालयों में भी वैक्सीनेशन?
कोरोना की पहली लहर के समय आयुर्वेद विभाग के चिकित्सकों की ड्यूटी लगाई गई थी। अब इसी विभाग के औषधालय और चिकित्साकर्मियों की ड्यूटी लग सकती है। बीकानेर शहर में एक दर्जन से अधिक औषधालय स्थापित है, जबकि तहसील मुख्यालयों पर भी आयुर्वेद औषधालय है। इस दिशा में भी चिकित्सा विभाग का प्रस्ताव जिला प्रशासन को भेजा जा सकता है।

अनुमानित कितना वैक्सीनेशन?
बीकानेर की वर्ष 2021 की अनुमानित जनसंख्या 27 लाख 41 हजार 694 है। इसमें 37 फीसदी की उम्र 45 साल से अधिक आयु के हैं तो यह संख्या करीब दस लाख 14 हजार है। अब तक एक लाख 86 हजार से अधिक लोगों ने अपना वैक्सीनेशन करवा लिया है जबकि आठ लाख लोगों काे टीका लगाने के लिए चिकित्सा विभाग को खासी मशक्कत करनी पड़ेगी।

अगर आप 45 साल के हैं तो आपके सवालों के जवाब

मैं बीमार नहीं हूं, फिर भी वैक्सीन लगवा सकता हूं
बिल्कुल लगवा सकते हैं क्योंकि एक अप्रैल से यह बाध्यता ही खत्म हो रही है कि 45 से अधिक आयु के बीमार व्यक्ति को ही टीका लगाया जाएगा।

मुझे क्या डॉक्यूमेंट देने होंगे?
एक मोबाइल के साथ आपको अपना आधार कार्ड साथ लेकर जाना है। वहां कोई डॉक्यूमेंट जमा नहीं कराना। आपके आधार कार्ड से रजिस्ट्रेशन होगा और मोबाइल पर OTP आयेगा। इसके बाद आपका टीकाकरण कर दिया जायेगा।

मुझे कितनी देर रुकना होगा?
आपको सिर्फ चालीस मिनट लगेंगे। दस मिनट प्रोसेस के और तीस मिनट टीकाकरण के बाद रेस्ट करना होगा। ताकि कोई असुविधा हो तो ध्यान दिया जा सके। सब कुछ ठीक रहने पर आपको घर जाने की अनुमति मिल जायेगी।

टीकाकरण के बाद कोई दिक्कत?
सामान्य बुखार हो सकता, टीका लगने वाली जगह दर्द हो सकता है। यह बुखार व दर्द भी एक दो दिन में ठीक हो जाता है। दर्द के लिए दर्द निवारक दवा ली जा सकती है। इसके लिए सामान्य फिजिशियन से भी बात की जानी चाहिए।