दो दिन में दो युवकों की हत्या:लूणकरनसर सर्किल में हत्याओं के बाद भी गिरफ्तारी नहीं, दोनों मामलों में पीट-पीटकर की गई हत्या

बीकानेर4 महीने पहले

लूणकरनसर में दो दिन में दो हत्याओं के बाद पुलिस व्यवस्था की पोल खुलकर सामने आ गई है। शुक्रवार व शनिवार को हुई दोनों हत्याओं में शव सड़क पर फैंक दिए गए। एक मामले में पुलिस को अपहरण की सूचना के बाद भी कार्रवाई नहीं की गई तो दूसरे मामले में खुले आम झगड़ा होता रहा, लेकिन पुलिस नदारद रही। दोनों ही मामलों में पुलिस की लापरवाही का परिणाम मौत ही रहा।

कालू में सहजरासर रोड पर ओम प्रकाश जाट की हत्या से पहले पुलिस को सूचना दी गई थी कि उसका अपहरण किया गया है। पुलिस ने उसकी मोटर साइकिल जब्त की, लेकिन कार में डालकर कौन ले गया, इसका पता नहीं लगाया। नतीजा ये हुआ कि बेखौफ अपराधियों ने हत्या करके उसका शव पुलिस थाने से कुछ दूरी पर ही फैंक दिया। परिजनों ने आक्रोश जताया, धरना दिया तो उन्हें आश्वासन देकर शव का पोस्टमार्टम करवा दिया। इसके बाद से अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। ये हालात तब है, जबकि पुलिस के पास संदिग्धों के नाम है।

पीट-पीट कर मार दिया दोनों बार

लूणकरनसर सर्किल में दो दिन में हुई दोनों हत्याओं में युवकों को पीट-पीटकर मारा गया। सहजरासर रोड पर हुई हत्या में पहले कार में डालकर ले गए। हाथ-पांव पर जमकर वार किए और फिर फैंक दिया। तड़फते हुए ओमप्रकाश ने सड़क पर ही दम तोड़ दिया। आशंका है कि रातभर वो सड़क पर तड़फता रहा। सुबह वहां से गुजर रहे एक युवक ने उसका शव देखकर पुलिस को सूचना दी थी।

शनिवार को हुई हत्या

वहीं एक युवक हिम्मत नाथ की शनिवार को भी हत्या हुई। इसे भी मारपीट कर सड़क पर फैंक दिया गया। परिजनों की रिपोर्ट पर तीन नामजद के खिलाफ मामला तो दर्ज हुआ लेकिन गिरफ्तारी नहीं हो सकी। दो नामजद को राउंड अप कर लिया गया लेकिन गिरफ्तारी नहीं होने से क्षेत्र के लोगों में आक्रोश है। थानाधिकारी चन्द्रजीत सिंह के अनुसार शनिवार को सुबह किसी ग्रामीण का फोन आया कि कस्बे में कालू रोड़ के किनारे पर एक युवक बेहोश पङा है।पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर घायल युवक को अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद बीकानेर पीबीएम अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक के भाई भागूनाथ की रिपोर्ट पर प्रमेश्वर लाल,बलराम डूडी,राजूराम निवासीगण लाखनसर व 6-7 अन्य ने मारपीट कर हत्या करने का अंदेशा है।

एफएसएल टीम सक्रिय हुई
दोनों दिन हुई हत्याओं के मामले में एफएसएल टीम ने कार्रवाई की है। दोनों जगह से सबूत एकत्र किए गए हैं। शनिवार को दोपहर पश्चात घायल युवक की मौत के बाद बीकानेर से पहुंची एफएसएल टीम ने घटना स्थल से अनेक साक्ष्य जुटाएं है