युवक को धमकाने के लिए बीकानेर में फिर से फायरिंग:गोली चलने की आवाज सुन भगदड़ मची, बदमाश भाग निकले

बीकानेर4 महीने पहले

बीकानेर में जस्सूसर गेट एक बार फिर अपराध का अड्‌डा बनता नजर आ रहा है। पिछले एक साल में फायरिंग की अधिकांश घटनाएं जस्सूसर गेट और इसके आसपास के क्षेत्रों में हो रही है। गुरुवार देर रात एक बार फिर यहां पुलिस चौकी से कुछ फर्लांग दूरी फायरिंग हुई, जिसके बाद पुलिस दो संदिग्ध युवकों की तलाश करते हुए धरपकड़ कर रही है। शुक्रवार सुबह तक पुलिस के हाथ कोई नहीं लग पाया।

दरअसल, गुरुवार देर रात जस्सूसर गेट पर पुराने लेनदेन के मामले में हनुमान सोनी को धमकाने के लिए दो युवक आए थे। इन युवकों ने सोनी पर हमला करने की नियत से फायरिंग कर दी। जस्सूसर गेट के ठीक सामने उस वक्त सैकड़ों की संख्या में लोग आ-जा रहे थे। दुकानें खुली थी। ऐसे में वहां भगदड़ मच गई। फायरिंग करके दोनों युवक वहां से फरार हो गए। जानकारी मिलने पर नयाशहर पुलिस मौके पर पहुंची, बाद में एडिशनल एसपी अमित बुडानिया भी मौके पर आए। मौके से कारतूस, फायरिंग के छर्रे सहित कई सबूत खंगालने के लिए दर्जनभर से ज्यादा पुलिसकर्मी जुटे रहे।

नयाशहर थानाधिकारी गोविन्द सिंह चारण ने बताया कि हनुमान सोनी पर हमले के मामले में विष्णु साध और विक्की की तलाश की जा रही है। ये दोनों अब तक पुलिस के हाथ नहीं लगे हैं। दोनों के घर और रिश्तेदारों के यहां छापेमारी की जा रही है।

फायरिंग जोन हो गया जस्सूसर गेट

इस क्षेत्र में पहले भी कई बार फायरिंग की घटनाएं हो चुकी है। अवैध हथियारों की लंबी चौड़ी धरपकड़ के बाद भी लोगों के पास देशी कट्‌टे मिल रहे हैं। गुरुवार देर रात भी यहां देशी कट्‌टों से ही फायरिंग की गई। यहां तक कि एक साल पहले यहां फायरिंग में लड़के की मौत हो गई थी।