बजट बिगाड़ती बीमारी:प्राइवेट में डेंगू की जांच पर 2 करोड़ खर्च कर चुके रोगी, वजह- फ्री जांच 2 सरकारी अस्पतालों में ही

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहर में फॉगिंग करती सीएमएचओ की टीम। - Dainik Bhaskar
शहर में फॉगिंग करती सीएमएचओ की टीम।
  • निजी लैब में 600 से 900 रुपए में हो रही डेंगू की जांच

एक माह में डेंगू के पॉजिटिव मरीजों को करीब दो करोड़ रुपए की चपत लग चुकी है। संभाग के सबसे बड़े पीबीएम और जिला हॉस्पिटल में ही डेंगू की फ्री जांच हो रही है। हॉस्पिटल से बाहर जांच करवाने पर 600 से 900 रुपए का मनमाना शुल्क वसूला जा रहा है। पीबीएम हॉस्पिटल में डेंगू पॉजिटिव भर्ती पेशेंट्स की भीड़ और लैब के बाहर लगने वाली लंबी कतार के चलते पॉजिटिव पेशेंट्स को मजबूरन हॉस्पिटल के बाहर से जांच करवानी पड़ रही है।

एक अनुमान के मुताबिक जिले की प्राइवेट लैब में रोजाना करीब 600 सौ डेंगू पेशेंट जांच करवा रहे हैं। ऐसे में बुखार और डेंगू से पीडि़त पेशेंट्स की जेब से करीब दो करोड़ रुपए एक माह में निकल चुके हैं। जिले के लूणकरनसर, खाजूवाला, श्रीडूंगरगढ़, नोखा तथा श्रीकोलायत में डेंगू जांच मशीनें तक नहीं है। यहां के मरीजों को बुखार और डेंगू के लक्षण होने पर जांच के लिए बीकानेर भागना पड़ता है।

हॉस्पिटल के कबाड़ से फैल रहे मच्छर

शहर के कोने-कोने में डेंगू पेशेंट्स की भरमार है। पीबीएम हॉस्पिटल में डेंगू पेशेंट्स के भर्ती होने का सिलसिला भी जारी है। लेकिन हैरानी की बात यह है कि पीबीएम हॉस्पिटल में भर्ती होने वाले डेंगू पॉजिटिव पेशेंट्स भी डेंगू के साये में अपना इलाज करवाने के लिए मजबूर है। पीबीएम हॉस्पिटल में पड़े कबाड़ और वहां जमे पानी से डेंगू फैलने की आशंका है। पीबीएम हॉस्पिटल के बाहर फैले गंदे पानी से भी मच्छर पनप रहे हैं, लेकिन अभी तक हॉस्पिटल और उसके बाहर मच्छर रोधी गतिविधियों को अंजाम नहीं दिया गया है।

बढ़ता रोग : एक दिन में 26 पॉजिटिव, चार भर्ती :

जिले में डेंगू पेशेंट्स की संख्या दिनोंदिन बढ़ रही है। बुधवार को एक साथ 26 डेंगू पॉजिटिव पेशेंट्स सामने आए हैं। इनमें चार पेशेंट्स को हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है। बुधवार को मिली रिपोर्ट के बाद जिले में कुल डेंगू पॉजिटिव पेशेंट्स का आंकड़ा बढ़कर 290 हो चुका है। डिप्टी सीएमएचओ डॉ. लोकेश गुप्ता ने बताया कि बुधवार को 330 डेंगू पेशेंट्स की जांच की गई थी। वहीं शहर की सर्वोदय बस्ती, इन्दिरा कॉलोनी, गंगाशहर, भुटटों का बास, सुभाषपुरा व शहरी परकोटे सहित 28 स्थानों पर फॉगिंग करवाई गई। गुप्ता ने बताया कि 50 घरों में एंटी लार्वा गतिविधियां भी करवाई गई।

खबरें और भी हैं...