पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रिश्वत:गिफ्ट और रिलीज डीड का नामान्तरण दर्ज करने के बदले पटवारी ने ली 12 हजार रिश्वत, गिरफ्तार

बीकानेर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भ्रष्टाचार निराेधक ब्यूराे ने कतरियासर हलके के पटवारी काे गिफ्ट और रिलीज डीड का नामान्तरण दर्ज करने के बदले 12 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। पटवारी ने यह राशि व्यास काॅलाेनी स्थित अपने निजी ऑफिस में ली। एसीबी के एएसपी रजनीश पूनिया ने बताया कि कतरियासर के परिवादी पुरखाराम को जमीनाें की दाे गिफ्ट डीड और दाे रिलीज डीड का नामांतरण करवाना था। इसके लिए वह राजस्व

विभाग के पटवारी माेहनलाल से मिला ताे उसने 12 हजार रुपए की रिश्वत मांगी। परिवादी ने इसकी शिकायत ब्यूराे से की। मंगलवार काे परिवादी व्यास काॅलाेनी स्थितपटवारी के निजी आफिस में पहुंचा। पटवारी ने रिश्वत की राशि लेकर अपनी टेबिल की दराज में रख ली। इसी दाैरान एसीबी की टीम ने पटवारी काे दबाेच लिया अाैर रिश्वत की राशि बरामद कर ली। उसे बुधवार काे काेर्ट में पेश किया जाएगा। टीम में इंस्पेक्टर भूपेन्द्र कुमार साेनी, मनाेज कुमार, हेड कांस्टेबल बजरंगसिंह, नरेन्द्र कुमार, कांस्टेबल अनिल कुमार, अमरीकसिंह, गिरधारीदान, प्रेमाराम व ज्ञानेन्द्र सिंह शामिल थे।

ताऊ की दाे जमीनाें की थी गिफ्ट डीड
परिवार में जमीनाें का लेनदेन हुआ था। परिवादी काे उसके ताऊ ने अपनी दाे जमीनें दी थी, जिनकी गिफ्ट डीड का नामान्तरण करवाना था। ताऊ की जमीन हासिल हाेने पर परिवादी काे उसकी, मां और बहनाें की दाे जमीनें अपने भाइयाें के पक्ष में करने के लिए भी रिलीज डीड का भी नामान्तरण करवाना था। दाे गिफ्ट डीड और दाे ही रिलीज डीड के बदले पटवारी ने 12 हजार रुपए मांगे और कहा कि इसमें तहसीलदार और गिरदावर का भी हिस्सा है।

रिश्वत ली, फिर दरियादिली दिखाकर 2000 वापस भी दिए
आराेपी पटवारी ने परिवादी से अपने निजी ऑफिस में 12 हजार रुपए की रिश्वत ले ली। इस दाैरान परिवादी ने वापस जाने के लिए कुछ खर्चा-पानी मांगा ताे पटवारी ने पहले उसी से पूछा, कितने चाहिए। फिर दरियादिली दिखाते उसे रिश्वत की राशि में से 2000 रुपए वापस भी लाैटा दिए।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें