पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बर्ड फ्लू:पक्षियाें में बर्ड फ्लू फैलने के बाद सतर्क हुए लाेग, चिकन खाना कम किया, ब्रायलर मुर्गियों की बिक्री आधी हुई

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीकानेर में हर दिन बिकती हैं 3500 ब्रायलर मुर्गियां, दाे दिन से गाड़ी नहीं मंगवाई, पोल्ट्री फार्मों में पड़ा है स्टाॅक

पक्षियाें में बर्ड फ्लू फैलने के बाद चिकन और अंडे के शौकीन लाेग सतर्क हा़े गए हैं। इसका सीधा असर शहर के निजी पोल्ट्री फार्म और अंडा कारोबारियों पर पड़ा है। दाेनाें की बिक्री घटकर आधी रह गई है। हालांकि मुर्गियों में बर्ड फ्लू अभी तक रिपोर्ट नहीं हुआ है। उसके बाद भी एहतियात के ताैर पर पशुपालन विभाग ने पोल्ट्री फार्मों पर गुरुवार से मुर्गियों की सेंपलिंग करने का फैसला किया है।

बीकानेर में मुर्गी पालन नहीं हाेता। यहां दाे-तीन बड़े प्राइवेट पोल्ट्री फार्म हैं, जाे अजमेर, झुंझुनूं और पिलानी से ब्रायलर मुर्गियों के चूजे और मुर्गियां मंगवाते हैं। हर दिन करीब तीन से 3500 मुर्गियों की बिक्री हाेती है। लेकिन बर्ड फ्लू के डर से बिक्री घट कर आधी रह गई है। दाे दिन से मुर्गियां नहीं मंगवाई हैं। पोल्ट्री फार्म संचालकों का कहना है कि अगले दाे दिन का स्टाक है अभी। लाेग डर के कारण चिकन का उपयोग कम करने लगे हैं।

वेटरनरी विवि जारी करेगा एडवाइजरी, मीटिंग में चर्चा हुई
पक्षियों में H5N1 वायरस, बर्ड फ्लू काे लेकर वेटरनरी यूनिवर्सिटी जल्दी की एडवाइजरी जारी करेगा। इसे लेकर यूनिवर्सिटी में एक महत्वपूर्ण बैठक भी हुई। वेटरनरी डीन आरके सिंह ने बताया कि एडवाइजरी तैयार की जा रही है। सभी काे यही सलाह है कि काेई भी बर्ड मरता है ताे उसे एहतियात के ताैर पर बर्ड फ्लू की तरह की हैंडल किया जाए। मुर्गियों में फिलहाल इसका काेई प्रभाव देखने काे नहीं मिला है।

पोल्ट्री का काेई भी केस नहीं आया है। फिर भी सावधानी रखनी बेहद जरूरी है। यूनिवर्सिटी की कुक्कुट शाला सहित अन्य फार्म पर भी वैज्ञानिकों और कर्मचारियों काे सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। कुक्कुट शाला प्रभारी डाॅ. अरुण ने बताया कि उनके यहां ब्रिडिंग हाेती है। बाहर से पक्षी नहीं लाया जाता। इसलिए प्रतिदिन औसत 500 अंडे की सेल रहती है।

  • शहर में तीन बड़े पोल्ट्री फार्म हैं, जाे ब्रायलर मुर्गियां बेचने का व्यवसाय करते हैं। उनका विजिट किया है। बुधवार से लैब की वैन सेंपलिंग करेगी। मुर्गियों के रक्त, स्वाब आदि के सेंपल लेकर जांच की जाएगी। - डाॅ. ओपी किलानिया, संयुक्त निदेशक, पशुपालन
  • मुर्गियाें में बर्ड फ्लू काे लेकर कहीं से भी काेई केस रिपाेर्ट हाेने की सूचना नहीं है। उसके बाद भी लाेग डर रहे हैं। मुर्गियाें की बिक्री घटकर आधी रह गई है। साेमवार काे गाड़ी मंगवाई थी। अभी दाे दिन का माल और पड़ा है। - हरप्रीत सिंह, संधु पाेल्ट्री फार्म

अंडाें की बिक्री भी घट गई
बर्ड फ्लू के कारण अंडों की बिक्री पर भी असर पड़ा है। अंडा व्यवसायी जोगेंद्र पाल ने बताया कि बीकानेर में तीन-चार होलसेलर हैं। प्रतिदिन 2500 ट्रे की बिक्री हाेती है। अधिकतर अंडा अजमेर से ही आता है। गाड़ी एक दिन छाेड़कर मंगवाई जाती है। लेकिन जब से पक्षियों में बर्ड फ्लू फैला है लाेग अंडा खाने से डर रहे हैं। जबकि अंडे से बर्ड फ्लू फैलने का काेई केस अब तक सामने नहीं आया है।

कौआ, कबूतर के साथ अब कोयल, कमेड़ी और मोर भी मरे, 25 पक्षियों की मौत, सैंपल सिर्फ एक का लिया

बर्ड फ्लू का जाल अब दूसरे पक्षियों को भी फंसाने लगा है। अब तक कौआ और कबूतर मर रहे थे लेकिन गुरुवार को कोयल, कमेड़ी और मोर भी चपेट में आ गए। गुरुवार को दो मोर, दो कमेड़ी, एक कोयल, चार कबूतर और 16 कौओं की मौत हो गई लेकिन पशुपालन विभाग ने सैंपल सिर्फ स्वरूपसर में मरी एक मोर का ही लिया। गुरुवार को भी भोपाल भेजे गए मृत पक्षियों की रिपोर्ट नहीं आई, इसलिए आधिकारिक तौर पर अभी तक बीकानेर में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। फिर भी लगातार मर रहे पक्षियों की मौत को बर्ड फ्लू से जोड़कर देखा जा रहा है।

लगातार मर रहे पक्षियों के कारण अब शहर के लोग भी डरने लगे हैं। क्योंकि मॉडर्न मार्केट, रेलवे कॉलोनी, गजनेर रोड, समता नगर और एक्स-रे गली में भी गुरुवार को पक्षियों की मौत हुई। पशुपालन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि वे भी रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। दूसरी ओर प्रशासन ने मुर्गी पालन केंद्रों पर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं क्योंकि इंसानों में यह वायरस चिकन और अंडे खाने से फैल सकता है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें