सहायता राशी / सहकारी गौण मंडी के कार्मिकों को मिलेगी 10 प्रतिशत प्रोत्साहन राशि

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:21 AM IST

बीकानेर. कोरोना वायरस  महामारी को देखते हुए गौण मंडी घोषित ग्राम सेवा सहकारी समितियों एवं क्रय विक्रय सरकारी समितियों के संचालन में लगे कार्मिकों को दस प्रतिशत प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। वहीं खरीद से जुड़े कार्य कर रहे सहकारी समितियों के श्रमिकों को संबल मिलेगा।

किसानों से अपने खेत के नजदीक उपज बेचान की सुविधा देने के लिए नियमों में स्थिरता देखकर ग्राम सेवा सहकारी समितियों एवं क्रय विक्रय सहकारी समितियों को सरकार ने हाल ही में निजी गौण मंडी घोषित किया  है। सहकारिता विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी इस कार्य में सहकारी समितियों को स्क्रीन कर रहे हैं।

सहकारी गौण मंडियों द्वारा किसानों को गांव के नजदीकी उपज बेचान की सुविधा देना शुरू कर दिया है।  निजी गौण  मंडी का कार्य समितियों द्वारा वर्तमान में किए जा रहे कार्यों के अतिरिक्त नवीन कार्य हैं। मंडी व्यवसाय में वृद्धि एवं कर्मिकों के प्रयासों को प्रोत्साहित करने के लिए समिति को प्राप्त मंडी शुल्क 10% प्रोत्साहन राशि के रूप मेंअब समिति कार्मिकों मिलेगा। सहकारिता विभाग के उप रजिस्ट्रार नवरंग बिश्नोई ने बताया कि बीकानेर जिले में 12 सरकारी गौण मंडियां है। इनमें जुड़े कार्मिकों को योजना का लाभ मिलेगा

कार्मिकों को राशि का वितरण त्रैमासिक होगा
महामारी के दौर में किसानों से सुगम खरीद के लिए उठाए गए इस ऐतिहासिक कदम का फायदा सहकारी समितियों को मिल रहा है। कई ऐसी समितियां हैं जिन्होंने निजी गौण मंडी के रूप में 2-2 करोड़ रुपए से अधिक का व्यवसाय कर लिया है।

उनसे जुड़े कर्मिकों को  प्रोत्साहन राशि का वितरण त्रैमासिक किया जाएगा।  विभाग इस बात का भी आंकलन कर रहा है कि अच्छा कार्य करने वाली सहकारी समितियों को विभाग की अन्य योजनाओं से प्राथमिकता के आधार पर जोड़ा जाए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना