चिराग तले अंधेरा:निगम के पीछे नाले काे कवर्ड करने दुबारा टेंडर की तैयारी, 4 साल से खुला पड़ा, 1 की जान भी जा चुकी

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केसरिया हनुमान मंदिर के पास का 40 फीट लंबे नाले का काम चार साल बाद भी पूरा नहीं हा़े पाया है। - Dainik Bhaskar
केसरिया हनुमान मंदिर के पास का 40 फीट लंबे नाले का काम चार साल बाद भी पूरा नहीं हा़े पाया है।

निगम के पीछे वाला नाला आसपास के 50 से अधिक घराें के लिए नासूर बना हुआ हैं। केसरिया हनुमान मंदिर के पास का 40 फीट लंबे नाले का काम चार साल बाद भी पूरा नहीं हा़े पाया है। नाले के बीचोबीच खड़े पीपल के चार पेड़ अड़चन बने हुए हैं। निगम प्रशासन उन्हें हटाने का फैसला अब तक नहीं ले पाया है। नाला आज भी खुला पड़ा है। नाले की मरम्मत का टेंडर अब नए सिरे से किया जा रहा है।

नगर निगम कार्यालय के ठीक पीछे इस नाले की मरम्मत कराने के लिए 2017 में टेंडर हुआ था। लेकिन काम 2020 में शुरू हुआ ताे काेराेना आ गया। लॉक डाउन लगने के कारण राेकना पड़ा। जुलाई में काम वापस शुरू हुआ था लेकिन निगम के पास डेयरी बूथ पर करीब 20 फीट, निगम के पीछे करीब 30 फीट और उसके बाद 10 फीट जगह की जगह खुली छाेड़ दी गई। बारिश के दौरान सड़कों पर दाे फीट तक पानी रहता है। इससे यह पता नहीं चलता कि नाला कहां है। पानी में डूबने से हनुमानहत्थे के एक व्यक्ति की मौत भी हा़े चुकी है।

निगम की लापरवाही के कारण ठेकेदार काम बीच में ही छोड़ गया। हालात ये है कि नाले के पास बने घराें के बच्चे बाहर निकलने से डरते हैं। नाले काे बंद करने के लिए अब नए सिरे से टेंडर लगाने की तैयारी की जा रही है। गौरतलब है कि नाले का निर्माण अधूरा छाेड़ने पर ठेकेदार और निगम अभियंता के बीच तकरार हुई थी। उसके बाद ठेकेदार काे ब्लैक लिस्ट कर दिया गया।

नए सिरे से फिर बनाई जाएगी पुलिया
नगर निगम के पीछे बना नाला जब पेट्रोल पंप से गिन्नाणी जाने वाले रास्ते की पुलिया से निकला ताे नाले का स्तर पुलिया से ऊंचा हाे गया। इस वजह से यहां पानी जमा हाेता है। बारिश के दिनाें में यहां तीन फीट तक पानी जमा हा़े जाता है। पुलिया जर्जर भी हा़े चुकी है। अब नाले की मरम्मत के साथ ही पुलिया भी दुबारा बनाई जाएगी।

ठेकेदार ने काम बीच में छोड़ दिया था इसलिए उसे ब्लैक लिस्ट कर दिया। अब नए सिरे से टेंडर होंगे। इसमें पास की पुलिया का भी काम शामिल किया गया है। गिन्नाणी वाले नाले का टेंडर हो गया है। 26 काे बिजली कंपनी ने पाेल हटाया है। अब काम शुरू हाेगा। चार पेड़ भी बीच में हैं उनकाे भी हटाना है। -पवन बंसल, एक्सईएन नगर निगम

खबरें और भी हैं...