पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Reet 2021
  • Reet 2021 Exam Student Tention, Some Have Been Preparing For Nine Years Some Have Been Preparing For Five Years Everyone Has The Same Mood Exams Should Be Just On Time No Court Problems

REET स्टूडेंट्स को सता रहा ये डर:किसी को अदालत में भर्ती अटकने की चिंता, कुछ ओवर एज होने के नजदीक; लाखों अभ्यर्थियों की टिकी है आस

बीकानेर7 दिन पहलेलेखक: अनुराग हर्ष

कंपीटिटिव एग्जाम की तैयारी कर रहे बेरोजगारों को कोविड-19 ने इतना नुकसान पहुंचाया है कि अब मानसिक तनाव में आ गए हैं। किसी को एग्जाम के आगे खिसकने का भय आज भी सता रहा है तो किसी को खुद के चयन का भरोसा होने के बावजूद अदालती पंगों में उम्र निकलने का डर है। दैनिक भास्कर ने तैयारी कर रहे कुछ युवाओं से बातचीत की तो उन्होंने हर हाल में परीक्षा हो जाने और समय पर नियुक्ति होने का माहौल बनाने की जरूरत जताई।

पिछला रीट एग्जाम पास किया, लेकिन नौकरी नहीं मिली
मोहम्मद अजहरुदीन का कहना है कि तीन साल पहले जब रीट की परीक्षा हुई तो कटऑफ मार्क्स के आसपास ही था। उम्मीद थी कि वेटिंग लिस्ट में मेरा नंबर आ जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। अब उस भर्ती को तीन साल हो गए तो रीट में मेरे मार्क्स भी अब बेकार हो गए। बड़ी मुश्किल से पिछले एक साल से फिर मेहनत कर रहा हूं। पहले ये डर था कि रीट का एग्जाम कहीं सितंबर से आगे न बढ़ जाये। सरकार ने अब डेट्स तय कर दी है, लेकिन चयन के बाद भी कहां सीधे नियुक्ति मिल पाती है। कई बार भर्ती अदालती मामलों में ऐसी अटकती है कि सालों लग जाते हैं। अजहरुदीन हाल ही में वर्ष 2016 की भर्ती के चयनित बेरोजगारों के दर्द को साझा करते हुए कहते हैं कि पांच साल बाद उन्हें अब नियुक्ति मिली है।

रीट फर्स्ट लेवल की अभ्यर्थी बिंदू स्वामी का कहना है कि कोरोना काल के कारण लगभग सभी की पढ़ाई बाधित रही है। कोरोना की दो लहरों के कारण कोचिंग भी बंद थी। सरकार को चाहिए कि अब बेरोजगारों की मजबूरी को समझते हुए काम करें। बीएड स्टूडेंट्स को लेवल फर्स्ट का एग्जाम देने की छूट का भी विरोध करती है। वो कहती है कि इससे डीएलएड करने वाले युवाओं को बड़ा नुकसान होने वाला है। बीएड करने वाले स्टूडेंट्स ग्रेजुएट होते हैं, जबकि डीएलएड बारहवीं के बाद होती है। बीएड वालों को लेवल 2 में ही अवसर देना चाहिए।

एक अन्य स्टूडेंट सीमा व्यास का कहना है कि बीएड व डीएलएड सभी ने बड़ी मेहनत की है। कोचिंग नहीं होने के बावजूद इस बार स्टूडेंट्स ने घर पर बैठकर तैयारी की है। पिछले एक साल से तो सभी बंद थे, लेकिन अब सब कुछ थोड़ा-थोड़ा शुरू हुआ है। एक महीने में कोई खास पढ़ाई नहीं होने वाली थी, फिर भी सब मेहनत कर रहे हैं। अब सरकार को चाहिए कि ज्यादा से ज्यादा बेरोजगारों को अवसर दें।

स्टूडेंट मोहम्मद साजिद का कहना है कि वर्ष 2015 में बीएड किया, पहली बार रीट की परीक्षा में चयन नहीं हुआ। इस बार बहुत मेहनत की है, कोशिश है कि चयन हो जाए। सरकार को चाहिए कि वो परीक्षा से लेकर जॉइनिंग तक कोई भी कानूनी पेंच ना आने दें। अर्से बाद ये अवसर आया है, जब बेरोजगारों को नौकरी का अवसर मिल रहा है। आम अभ्यर्थी को भी ध्यान रखना चाहिए कि वो फिजूल ही भर्ती में परेशानी पैदा न करें।

स्टूडेंट ताराचंद का कहना है कि मैंने वर्ष 2012 में बीएड किया था, लेकिन सरकारी नौकरी अब तक नहीं मिल पाई है। तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद मैं टीचर बनने के लिए दिन-रात एक कर रहा हूं। एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने के लिए दिन के पांच-सात घंटे लगते हैं। इस कोविड काल में ऑनलाइन क्लासेज ली, लेकिन अपनी पढ़ाई को बाधित नहीं होने दिया। उम्मीद करता हूं कि सरकार इस बार ट्रांसपेरेंट एग्जाम करवाएगी और समय पर परिणाम के साथ ही नियुक्ति हो जाए।

इस लिंक पर क्लिक कर हमें भेजें आपके सवाल

ये भी पढ़ें...

REET लेवल-2 'SCIENCE' का मॉडल टेस्ट पेपर:परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण प्रश्नों का निकालें हल, अपना स्कोर जानने के लिए देखें ANSWER KEY

REET की टेंशन में कॉमेडियन बनवारी का VIDEO:बोले- फुल तैयारी थी...आगे खिसक गई, इनका फनी अंदाज देखकर भूल जाएंगे परीक्षा का तनाव

REET को लेकर ना लें टेंशन, ऐसे करें तैयारी:90 प्रश्न रहते हैं सभी के लिए कॉमन, आखिरी के 7 दिन में करें केवल रिवीजन, एक्सपर्ट से जानें 150 प्रश्नों को हल करने का मैनेजमेंट

जानिए, REET से जुड़ी सभी जानकारियां:20 से 30 सितंबर तक रोडवेज बसों में फ्री यात्रा कर सकेंगे अभ्यर्थी, कोरोना वैक्सीन अनिवार्य नहीं

REET 2021 मॉडल टेस्ट पेपर ENVIRONMENTAL STUDIES:टेस्ट देकर बताएं- कितनी है पर्यावरण की जानकारी, ANSWER KEY है साथ

REET 2021 मॉडल टेस्ट पेपर आज से:16 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों के लिए महत्वपूर्ण हैं ये 10 प्रश्न, हिंदी व्याकरण और शिक्षण विधियां की करें प्रैक्टिस

खबरें और भी हैं...