पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कालाबाजारी पकड़ी:चौबीस हजार रुपए में बेच रहे थे रेमडेसिविर का एक इंजेक्शन, चार युवकों को चार इंजेक्शन बेचते रंगे हाथों पकड़ा सदर पुलिस ने

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार चार युवक - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार चार युवक
  • चार इंजेक्शन बरामद

बीकानेर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले चार युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सदर पुलिस की यह कार्रवाई में इंजेक्शन देने वाले और लेने वाले दोनों को एक ट्रेप कार्रवाई में पकड़ा गया है। इन लोगों से पुलिस को चार इंजेक्शन बरामद हुए हैं। एक इंजेक्शन चौबीस हजार रुपए में बेचा जा रहा था।

सीओ सदर पवन भदौरिया ने बताया कि पिछले कई दिनों से शहर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की शिकायतें मिल रही थी। इसी आधार पर पुलिस की विशेष टीम ने जाल बिछाया था। कोरोना के इस दौर में कालाबाजारी करने वाले चार युवक इस दौरान पुलिस के हत्थे चढ़ गए। इन सभी को रविंद्र रंगमंच के ठीक सामने से इंजेक्शन बेचते हुए गिरफ्तार कर लिया गया। इनमें दो युवक अलग अलग निजी अस्पतालों में कार्यरत बताये जा रहे हैं। भदौरिया ने बताया कि इस मामले में जिन चार युवकों को गिरफ्तार किया गया है उनमें निजी लेब में नर्सिंग कर्मचारी संदीप कुमार नायक, निजी अस्पताल की मेडिकल शॉप में रमेश सिंह राजपूत, एक निजी हेल्थ सेंटर में नर्सिंग कर्मी महेंद्र बिश्नोई, एक निजी अस्पताल में नर्सिंग कर्मी अनिल कुमार जाट शामिल है। भदौरिया ने बताया कि एक इंजेक्शन चौबीस हजार रुपए में बेचा जा रहा था।

खबरें और भी हैं...