पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना घटाने का अजीब फार्मूला:शहर में सैंपलिंग कम, जिन गांवों में रोगी नहीं वहीं ज्यादा सैंपल; 70 पॉजिटिव, एक मौत, शहर में स्थिति विस्फोटक

बीकानेर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कई हिस्सों में 20% से ज्यादा सैंपल पॉजिटिव

कोरोना अंधाधुंध रफ्तार से बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को 70 नए पॉजिटिव रिपोर्ट हुए हैँ वहीं बीकानेर के एक पॉजिटिव व्यक्ति की जयपुर में मौत हो गई। हालांकि पीबीएम हॉस्पिटल में भी गुरुवार को एक और संदिग्ध कोविड रोगी की मौत हुई लेकिन हॉस्पिटल-स्वास्थ्य प्रशासन ने पॉजिटिव होने की पुष्टि नहीं की है। इन नए रोगियों के साथ अप्रैल के आठ दिनों में 375 पॉजिटिव हो चुके हैं। इस महीने में अब तक 7806 सैंपल लिए जा चुके हैं। इस आंकड़े के आधार पर स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि बीकानेर में अब तक कोरोना नियंत्रण में है और कुल सैंपल की तुलना में पॉजिटिविटी दर लगभग पांच प्रतिशत है।

भास्कर ने आंकड़ों की पड़ताल की तो सामने आया कि बीकानेर शहर में कोविड के हालात एक बार फिर विस्फोटक होते जा रहे हैं लेकिन आंकड़ों का ऐसा तालमेल बिठाया जा रहा है ताकि स्थितियां उभरकर सामने न आ पाएं। ज्यादातर पॉजिटिव रोगी शहरी क्षेत्र में रिपोर्ट हो रहे हैं लेकिन सैंपल की ज्यादा संख्या उन गांवों की है जहां एक भी पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं हो रहा।

गुरुवार की रिपोर्ट के लिहाज से ही बात करें तो शहर की एक नंबर डिस्पेंसरी में 12 में से चार, दो नंबर में 12 में से तीन, जिला हॉस्पिटल में 44 में से 12 फोर्ट डिस्पेंसरी में 47 में से 07, कोविड ओपीडी में 48 में से 12 पॉजिटिव रिपोर्ट हुए। मतलब यह कि शहर के सात प्वाइंट पर हुए 282 कुल सैंपल में से 51 यानी 18 प्रतिशत से ज्यादा पॉजिटिव रिपोर्ट हुए। दूसरी ओर जिले की नौ सीएचसी-पीएचसी पर 540 सैंपल हुए जिनमें से महज 5 पॉजिटिव रिपोर्ट हुए। मतलब यह कि एक प्रतिशत से भी कम।

खाजूवाला में 139 सैंपल में से एक, सुरनाणा में 77 में से एक पॉजिटिव रिपोर्ट हुआ। इससे इतर कालू, तौलियासर, राणेर दामोलाई, बिग्गा, सावंतसर आदि ऐसे गांव हैं जहां सैंपल भरपूर हुए लेकिन पॉजिटिव एक भी नहीं। ऐसे में सैंपल की संयुक्त संख्या के लिहाज से प्रतिशत देखा जाए तो 6.81 प्रतिशत पॉजिटिव रेट होती है। पॉजिटिविटी रेट घटाने के इस सरकारी फार्मूले का बुरा असर यह हो रहा है कि शहर के लगभग हर हिस्से में बुखार, खांसी, बदन दर्द के रोगी बढ़ गए हैं। निजी क्लीनिक में पहुंच रहे रोगियों की एचआर सीटी हो रही है। सीटी स्कोर के आधार पर पॉजिटिव मानते हुए डॉक्टर इलाज भी कर रहे हैं।

गुरुवार की सैंपलिंग से समझें स्वास्थ्य विभाग का अंकगणित

  • शहर में कुल सैंपल के 20 प्रतिशत से ज्यादा पॉजिटिव, गांवों में जीरो। दोनों सैंपल मिलाकर कुल पॉजिटिव दर 4%
  • शहर के 7 पॉइंट पर 282 सैंपल में से 51 पॉजिटिव यानी 18% से ज्यादा रोगी
  • जिले के नौ गांवों में 540 सैंपल में से 5 पॉजिटिव यानी एक प्रतिशत से भी कम।
  • संयुक्त सैंपल की पॉजिटिव रेट 6.8%

दुकानदारों-शहरवासियों को समझाने निकले कलेक्टर मेहता : कलेक्टर नमित मेहता ने गुरूवार देर रात पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ शहरी क्षेत्र का दौरा किया और कोविड एडवाइजरी की पालना का जायजा लिया। कोटगेट और जस्सूसर गेट क्षेत्र में पैदल चलकर आमजन से मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग रखने की हिदायत दी। कलेक्ट्रेट से होते हुए केईएम रोड, कोटगेट, जोशिवाड़ा, दाऊजी रोड, सोनगिरि कुआं, जस्सूसर गेट, चौखूंटी पुलिया, हेड पोस्ट ऑफिस, अलख सागर रोड, तुलसी सर्किल सहित विभिन्न क्षेत्रों का दौरा किया। उन्होंने कहा कि रात्रि 9 बजे बाजार बंद किए जाने के आदेशों की पालना की जाए।

बुखार, खांसी, जुकाम, श्वास में तकलीफ, स्वाद और गंध न आना को अब तक कोरोना का लक्षण माना जा रहा था। डॉक्टर्स का कहना है, अब इस बीमारी के कोई स्पेसिफिक लक्षण नहीं रह गए हैं। पेटदर्द, उल्टी, दस्त, जोड़ों का दर्द, भूख न लगना जैसे लक्षण भी सामने आ रहे हैं। मेडिकल कॉलेज के कोविड नोडल प्रभारी डॉ.सुरेन्द्र वर्मा कहते हैं, यह तय है कि लक्षण बदल रहे हें लेकिन अब भी मास्क और दूरी को अपनाकर बचा जा सकता है। वैक्सीन जरूर लगवाएं।

गुरुवार को एमसीएचएन दिवस पर बच्चों व गर्भवतियों का टीकाकरण किया गया। इसके बावजूद 115 बूथ पर 15,655 का कोविड वैक्सीनेशन किया गया।
डॉ.राजेशकुमार गुप्ता,आरसीएचओ बीकानेर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें