हिंदी पखवाड़ा:पत्र लेखन में संजय व निबंध लेखन में साक्षी विजेता

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कांता खतूरिया कॉलोनी स्थित भारतीय खाद्य निगम मंडल कार्यालय में मंगलवार को हिंदी पखवाड़े का समापन समारोह आयोजित किया गया। समारोह में श्रीगंगानगर प्रबंधक चक्रेश कुरील, बीकानेर प्रबंधक सीताराम चावला व हिंदी व्याख्यात राजेन्द्र श्रीमाली ने हिंदी भाषा के बारे के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी।

हिंदी पखवाड़े के दौरान आयोजित हुई विभिन्न प्रतियोगिता में पत्र लेखन में संजय स्वामी प्रथम, पुष्पेंद्र नवल द्वितीय व हरिओम स्वामी व स्नेहलता मौर्य तृतीय स्थान पर रही। इसी प्रकार निबंध लेखन में साक्षी धींगड़ा प्रथम, सुनीता वर्मा द्वितीय व मनीष शर्मा तृतीय तथा टिप्पण एवं प्रारूपण प्रतियोगिता में मीनाक्षी काला प्रथम, महेन्द्र सिंह द्वितीय व महेश बिश्नोई तृतीय स्थान पर रहे। सभी विजेताओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

एलआईसी में हिमांशु भारद्वाज प्रथम रहे

भारतीय जीवन बीमा निगम के मंडल कार्यालय में हिंदी दिवस 14 सितम्बर से प्रारंभ हुआ हिंदी पखवाड़ा मंगलवार को समाप्त हुअा। इस अवसर पर वरिष्ठ मंडल प्रबंधक बीआर पंवार ने समस्त कार्मिकों को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदी हमारी मातृभाषा है और हम हिंदी में ही सहज भाव से कार्य कर सकते हैं। इस अवसर पर प्रबंधक कार्मिक अमर सिंह मीणा ने कहा कि हिंदी पखवाडे में विभिन्न प्रतियाेगिताएं आयाेजित की गई जिसमें मंडल स्तरीय निबंध प्रतियोगिता में प्रथम हिमांशु भारद्वाज, कविता प्रतियोगिता में प्रथम प्रीति शर्मा, सामान्य हिंदी ज्ञान प्रतियोगिता में प्रथम इस्माइल खान, प्रेरणा दायक सुविचार लेखन प्रतियोगिता में प्रथम केके किराडू रहे।

हिंदी पखवाड़े का समापन, अधिकारी व कर्मचारी का किया सम्मान

बीएसएनएल में दाे सप्ताह तक आयाेजित हिंदी पखवाड़े का समापन मंगलवार काे हुअा। महाप्रबंधक एनराम ने पखवाड़े में हुई विभिन्न प्रतियाेगिताओं में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान अर्जित करने वाले अधिकारियाें व कर्मचारियाें काे सम्मानित किया। महाप्रबंधक ने अधिकारियाें व कर्मचारियाें से हिंदी में ज्यादा से ज्यादा कार्य करने का आग्रह किया ताकि हिंदी देश की मुख्य व आमभाषा बन सके। इस माैके पर औपी खत्री, सहायक महाप्रबंधक अजय चाैधरी समेत कई अधिकारी व कर्मचारी माैजूद थे। इसी दाैरान ऑफिस विषय पर हिंदी कार्यशाला का आयाेजन किया गया।

खबरें और भी हैं...