पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही पर कार्रवाई:क्राइम मीटिंग में सेरूणा एसएचओ लाइन हाजिर, एसपी ने कहा-मेरी टीम में वही रहेगा जो काम करेगा

बीकानेर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले की क्राइम मीटिंग में लापरवाही सामने आने पर एसपी प्रीति चन्द्रा ने सेरूणा पुलिस थाने के एसएचओ को लाइनहाजिर कर दिया। सभी एसएचओ से कहा कि टीम में वही रहेगा जो काम करेगा।

जयपुर में एक माह की ट्रेनिंग के बाद वापस लौटीं एसपी प्रीति चन्द्रा ने बुधवार को जिले के पुलिस अधिकारियों की क्राइम मीटिंग ली। क्राइम कंट्रोल और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए किस एसएचओ ने कितना काम किया, इसका रिकॉर्ड खंगाला। सेरूणा एसएचओ मनोज यादव के काम में लापरवाही मानकर उसे लाइन हाजिर कर दिया।

सभी एसएचओ को हिदायत दी कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। टीम में वही रहेगा जो टास्क पूरा करेगा। जो ऐसा नहीं कर सकता वह लाइन में आमद करवा ले। अगर ढिलाई के कारण कोई वारदात हुई तो एसएचओ जिम्मेदार होगा। एसपी ने लॉकडाउन के बाद जिले में बढ़ती आपराधिक वारदातों पर चिंता जताई और अपराधियों पर नकेल कसने के लिए कहा। पांच साल में अगर किसी अपराधी के खिलाफ तीन मुकदमे भी हैं तो उसकी निगरानी की जाएगी।

एसएचओ मॉनिटरिंग करेंगे और उसकी गतिविधियों के बारे में जानकारी जुटाएंगे। सक्रिय अपराधियों के खिलाफ प्रिवेंटिव एक्शन लेकर उन्हें पाबंद करेंगे या सीखचों के पीछे डालेंगे। एसएचओ से कहा गया है कि वे शाम को सात से 10 बजे तक रोजाना अपने-अपने एरिये में गश्त करेंगे। इसके अलावा रात की गश्त को भी भी गंभीरता से किया जाए।

आने वाले दिनों में डीजी एमएल लाठर का बीकानेर दौरा भी प्रस्तावित है। उसे देखते हुए सभी अधिकारियों को अलर्ट किया गया है। एसपी ने झूठे मुकदमे दर्ज करवाने वालों के खिलाफ कार्यवाही, एक साल के पेंडिंग मुकदमों को प्राथमिकता से निपटारा, आमजन से संपर्क, सीएलजी मीटिंग करने के निर्देश दिए। मीटिंग में एएसपी ग्रामीण सुनील कुमार, सभी सीओ और एसएचओ मौजूद थे।

तीन दिन में दूसरा एसएचओ लाइन हाजिर

एसपी प्रीति चन्द्रा ने तीन दिन में दो पुलिस थानों के एसएचओ को काम में लापरवाही मानते हुए लाइन हाजिर किया है। दो दिन पहले छत्तरगढ़ पुलिस थाने के एसएचओ रतनलाल को लाइन हाजिर कर उनकी जगह कालू एसएचओ जयकुमार को एसएचओ लगाया था। बुधवार को सेरूणा पुलिस थाने के एसएचओ को लाइन हाजिर कर दिया। गौरतलब है कि पिछले दिनों डीजी ने वीसी के दौरान बीकानेर जिले में आपराधिक गतिविधियां बढ़ने और उन पर अंकुश लगाने के लिए कहा था।

खबरें और भी हैं...