• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Teachers Angry Due To Cancellation Of Educational Conference With Mid Term Holidays, Organizations Warned Of Agitation, Giving Duty Since Corona

छुटि्टयां रद्द होने से टीचर्स नाराज:मिड टर्म छुटि्टयों के साथ शैक्षिक सम्मेलन रद्द होने से टीचर्स नाराज, संगठनों ने दी आंदोलन की चेतावनी, कोरोना के बाद से दे रहे ड्यूटी

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान शिक्षक संघ ने कहा आंदोलन किया जाएगा। - Dainik Bhaskar
राजस्थान शिक्षक संघ ने कहा आंदोलन किया जाएगा।

कोरोना के कारण स्टूडेंट्स की पढ़ाई खराब होने का हवाला देते हुए शिक्षा विभाग ने इस बार स्कूल्स की मिड टर्म छुटि्टयां रद्द की तो टीचर्स अब आक्रोश में है। प्रदेशभर के शिक्षक संगठनों ने इस निर्णय का विरोध करते हुए अब आंदोलन की चेतावनी दी है। सोशल मीडिया पर भी टीचर्स सरकार के इस निर्णय का जमकर विरोध कर रहे हैं, जबकि गार्जन सरकार के निर्णय के साथ हैं और तारीफ कर रहे हैं।

दरअसल, हर साल बारह से पंद्रह दिन तक टीचर्स व स्टूडेंट्स को दीपावली की छुटि्टयों के नाम पर अवकाश मिलता है। इसे सरकारी रिकार्ड में दीपावली अवकाश नहीं बल्कि मिड टर्म वेकेशन कहा गया है। इस बार माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने एक आदेश जारी करके मिड टर्म वेकेशन रद्द कर दिया। इतना ही नहीं शैक्षिक सम्मेलन के नाम पर मिलने वाली चार छुटि्टयां भी रद्द हो गई है। प्रिंसिपल पॉवर भी अब छुट्‌टी के मामले में नहीं चलेगा।

ये है टीचर्स का तर्क

अधिकांश टीचर्स एसोसएिशन का कहना है कि कोरोना जब शुरू हुआ था, तब से अब तक वो ड्यूटी कर रहे हैं। टीचर्स को पहले वार्ड में भोजन सामग्री वितरण में लगा दिया गया, बाद में वैक्सीनेशन में भी गांव-गांव टीचर्स की ड्यूटी लगाई गई। इस बीच कई पंचायतों व विधानसभा चुनावों में भी टीचर्स की ड्यूटी लगी। इस बीच अब कोरोना खत्म होने के बाद अवकाश का समय आया तो सरकार ने इस पर रोक लगा दी। प्रिंसिपल पॉवर की छुट्‌टी खत्म करने का टीचर्स अपमान बता रहे हैं।

लगातार पढ़ाया भी है

टीचर्स का कहना है कि उन्होंने कोरोना दौर में घर घर जाकर सरकार के आदेश पर बच्चों को पढ़ाया। जिसका रिकार्ड है। इसी का परिणाम है कि आज प्राइवेट के बजाय सरकारी स्कूल में बच्चों की संख्या बढ़ रही है। इसका पुरस्कार देने के बजाय शिक्षा विभाग प्रताड़ित कर रहा है।

विरोध का दौर शुरू

राजस्थान शिक्षक संघ (राष्ट्रीय) ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मिड टर्म वेकेशन पर लगी रोक हटाने की मांग की है। संघ के महामंत्री अरविन्द व्यास ने इन आदेशों को तुगलकी करार देते हुए कहा है कि सरकार इस आदेश को वापस नहीं लेगी तो राज्यव्यापी आंदोलन किया जायेगा।

खबरें और भी हैं...