पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हो सकती है पानी की परेशानी:पंजाब के गिद्दड़बाहा में टूटी नहर फिलहाल हमारे हिस्से का पानी नहीं घटा

बीकानेर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इंदिरा गांधी नहर में पानी छूटते ही शनिवार की रात को पंजाब के गिद्दड़बाहा में आरडी 370 के पास नहर टूट गई। नहर धंसने की खबर मिलते ही जयपुर से मुख्य अभियंता क्वालिटी कंट्राेल और हनुमानगढ़ से मुख्य अभियंता जल संसाधन माैके पर पहुंच गए। नहर 100 से 125 फीट धंस गई।

उधर, नहर धंसने की इत्तला पर पहुंचे पंजाब के नहरी विभाग के इंजीनियर मरम्मत में जुट गए। सीमेंट और रेत के कट्टे लगाकर टूटी नहर का पैचवर्क किया गया। नहर धंसने के कारण पंजाब से जाे 8000 क्यूसेक पानी छूटना चाहिए था, वह घटकर 6200 क्यूसेक रह गया। इसमें भाखड़ा का भी हिस्सा है, लेकिन नहर धंसने के कारण अभी पूरा 6200 क्यूसेक पानी राजस्थान काे दिया जा रहा है। इसलिए बीकानेर समेत पश्चिमी राजस्थान के लाेगाें पर फिलहाल इस डैमेज का ज्यादा असर नहीं हाेगा। लेकिन यदि भाखड़ा के किसानाें का दबाव बढ़ा ताे इस पानी से कुछ हिस्सा वहां भी देना हाेगा जिससे राजस्थान में दिक्कत हाे सकती है। बीकानेर में पहले से ही एक दिन छोड़कर जलापूर्ति हो रही है और यदि ऐसे में नहर का पानी रुका तो बड़ा जल संकट खड़ा हो जाएगा।

इधर, बीछवाल जलाशय में 70 सेमी बचा पानी यानी 2 दिन ही सप्लाई होगी

बीछवाल जलाशय में अब सप्लाई के लिए सिर्फ 70 सेंटीमीटर पानी बचा है। प्रतिदिन 30 सेंटीमीटर जलाशय खाली हो रहा है। यानी 2 दिन का पानी ही सप्लाई के लिए शेष है। अब अगर 2 जून की शाम तक पानी नहीं आया तो 3 जून से आधे शहर में सप्लाई बंद हो जाएगी। वहीं, हरिके बैराज से 2 दिन पहले छोड़ा गया पानी राजस्थान बॉर्डर पर पहुंच गया और वहां से बिरधवाल हैड के लिए रवाना कर दिया गया है। माना जा रहा है कि 31 मई तक बिरधवाल हैड पर पानी पहुंच जाएगा। वहां 5-6 घंटे पानी रोका जाएगा क्योंकि नहर का जलस्तर ऊपर लाना होगा। कंवरसेन लिफ्ट थोड़ी ऊंचाई से निकलती है इसलिए जब तक मुख्य नहर का जल स्तर ऊंचा नहीं होगा, तब तक कंवरसेन में पानी नहीं आएगा। माना जा रहा है कि 31 मई की आधी रात के बाद कंवरसेन लिफ्ट में पानी छोड़ दिया जाएगा। 2 जून की शाम तक बीछवाल जलाशय में पानी आने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...