पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • The Father And Two Daughters Ate Sleeping Pills And Cut The Veins Of The Hand With The Blade, Only The Elder Daughter Survived, Dae Was Defeated

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सामूहिक आत्महत्या:पिता और दो बेटियों ने नींद की गोलियां खाकर ब्लेड से हाथ की नसें काट लीं, बड़ी बेटी ही बच पाई, दाे की माैत हुई

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कमरे में दो चारपाई पर मिली पिता व बेटी की लाश। अचेत मिली थी बड़ी बेटी। - Dainik Bhaskar
कमरे में दो चारपाई पर मिली पिता व बेटी की लाश। अचेत मिली थी बड़ी बेटी।
  • माैके से सुसाइड नाेट नहीं मिला, शादी के कुछ समय बाद से ही पीहर में थीं दाेनाें बेटियां
  • पुलिस के अनुसार पारिवारिक परेशानी के कारण उठाया ये कदम

धोबीतलाई की 21 नंबर गली में रहने वाले शौकत अली ने अपनी दो विवाहित बेटियों के साथ सामूहिक आत्महत्या करने के लिए नींद की गोलियां खाईं और ब्लेड से हाथ की नसें काट लीं। शाैकत और छाेटी बेटी जोनिया (32) की मौत हो गई, जबकि बड़ी बेटी बबली (35) की जान बच गई। आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हुआ, लेकिन पुलिस पारिवारिक परेशानी काे इसके लिए जिम्मेदार मान रही है।

लाभुजी के कटले में मशीन लगाकर सिलाई का काम करने वाला शौकत अपनी दो विवाहित बेटियों बबली और जोनिया के साथ धोबीतलाई की 21 नंबर गली में रहता था। 27 मार्च को तीनों ने नींद की गोलियां खाईं और ब्लेड से हाथ की नसें काट लीं। शौकत और जोनिया की मौत हो गई, जबकि बबली को गंभीर हालत में पीबीएम अस्पताल भर्ती करवाया गया, जहां डाॅक्टराें ने उसे बचा लिया।

कोटगेट एसएचओ मनोज माचरा ने बताया कि जाेनिया की तबीयत ठीक नहीं होने के कारण पूछताछ नहीं की जा सकी, इसलिए आत्महत्या का कारण सामने नहीं आया है। शौकत ने दोनों बेटियों की सीकर में शादी कर रखी थी, लेकिन वे शादी के बाद से पीहर में ही रहती थी। आशंका है कि पारिवारिक परेशानी के कारण तीनों ने सामूहिक आत्महत्या की। शौकत के सीकर निवासी भाई गुलाम की रिपोर्ट पर मर्ग दर्ज की गई है।

बेहाेश हाेने से पहले बड़ी बेटी ने ही पुलिस काे फाेन किया था, हम पहुंचे तब तक शाैकत व जाेनिया की माैत हाे चुकी थी : कोटगेट एसएचओ मनोज माचरा ने बताया कि 28 मार्च को सुबह करीब 8.15 बजे कोटगेट थाने के लैंडलाइन पर एक युवती का फोन आया। उसने कहा कि धोबीतलाई में शौकत और उसकी दो बेटियों ने आत्महत्या कर ली है। फोन बबली ने ही किया था, लेकिन उसने अपना नाम नहीं बताया। इत्तला मिलने पर हैड कांस्टेबल हरिराम मौके पर पहुंचा। शौकत का घर अंदर से बंद था। तब तक मैं भी पहुंच गया। पुलिसकर्मी दीवार फांदकर घर में गए। वहां एक चारपाई पर शौकत का शव था, जिसकी नाक से झाग निकले हुए थे।

दूसरी चारपाई पर जोनिया का शव अकड़ा हुआ था और बबली अचेत हालत में थीं। दोनों शव और बबली को तुरंत अस्पताल ले जाया गया। मौके से दवाइयों के पत्ते और ब्लेड बरामद हुई। चारपाई पर खून के धब्बे भी मिले। मौके पर एमओबी और एफएसएल की टीम ने भी जांच-पड़ताल की। घर की छानबीन की, लेकिन वहां कोई सुसाइड नोट या अन्य कोई संदिग्ध सामान नहीं मिला।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका अधिकतर समय परिवार तथा फाइनेंस से जुड़े महत्वपूर्ण कार्यों में व्यतीत होगा। और सकारात्मक परिणाम भी सामने आएंगे। किसी भी परेशानी में नजदीकी संबंधी का सहयोग आपके लिए वरदान साबित होगा।। न...

और पढ़ें