पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • The Pain Of One And A Half Lakh Teachers Giving Duty In Corona In The State Kovid Has Been Engaged In The Care And Funeral Duties In Hospitals

गुरुजी पर रहम करो:प्रदेश में कोरोना में ड्यूटी दे रहे डेढ़ लाख टीचर्स का दर्द- कोविड अस्पतालों में चौकीदारी और अंतिम संस्कार में लगा रखी है ड्यूटी

बीकानेर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

डॉक्टर्स, नर्सिंग कर्मचारी और पुलिस के अलावा प्रदेश में करीब डेढ़ लाख शिक्षक भी कोरोना योद्धा का फर्ज निभा रहे हैं। उसके बावजूद गांव में पॉजिटिव केस आने और मीटिंग से अनुपस्थित रहने पर अनुशासनहीता के नोटिस मिल रहे हैं। बीकानेर के नोखा एसडीएम ने करीब आधा दर्जन पंचायत प्रारंभिक शिक्षाधिकारियों (पीईईओ) को नोटिस दे दिए क्योंकि वे मीटिंग में नहीं जा सके।

जबकि उनमें से एक अधिकारी के परिवार में मृत्यु हो गई थी तो दूसरा अधिकारी होम क्वारेंटाइन था। श्रीगंगानगर के एक गांव में 27 केस पॉजिटिव आने पर पीईईओ पर महामारी रोकने में नाकाम रहने का आरोप लगाया गया। इसी प्रकार पाली में पीईईओ की ड्यूटी कोरोना मृतकों के अंतिम संस्कार में लगा दी गई। आरोप है कि राजपत्रित अधिकारियों की गरिमा तक का ध्यान नहीं रखा जा रहा है।

मीटिंग में नहीं गए होम क्वारेंटाइन थे, नोटिस थमाया
केस -1 :
नोखा एसडीएम ने पंचायत प्रारंभिक शिक्षाधिकारी श्रीकृष्ण शर्मा को बैठक में नहीं आने पर नोटिस दे दिया। जबकि शर्मा होम क्वारेंटाइन थे। उन्होंने अपना प्रतिनिधि मीटिंग में भेजा था। हालांकि शर्मा ने जवाब दे दिया, लेकिन कार्रवाई की तलवार अब तक लटकी हुई है। नोटिस की कॉपी सीबीईओ को भी भेजी गई है।

केस -2 : उडसर पंचायत प्रारंभिक शिक्षाधिकारी पतराम भादू के ताऊजी की मृत्यु हो गई थी। उन्होंने एसडीएम को सूचना भेज दी और प्रतिनिधि को मीटिंग में भेज दिया। उसके बावजूद बैठक में नहीं आने पर भादू को अनुशासनहीनता का नोटिस थमा दिया गया।

शिक्षक ये काम कर रहे: होम क्वारेंटाइन की व्यवस्था, कोरोना मरीज की देखभाल, बीमारों का सर्वे, कोरोना गाइडलाइन का पालन कराना, गांवों में सेनेटाइज कराना, कोरोना मृतक की अंत्येष्टि और ऑक्सीजन की व्यवस्था, चैक पोस्ट पर गाड़ियों की एंट्री, कोविड हॉस्पिटल के वार रूम में ड्यूटी, वैक्सीनेशन, मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना में आवेदन कराना आदि।

65 हजार स्कूलों से 2-2 टीचर कोरोना के काम में लगाए: राजस्थान में करीब डेढ़ लाख टीचर कोविड की ड्यूटी में लगे हुए हैं। राज्य में 65 हजार सरकारी स्कूल हैं। हर स्कूल से दो टीचर लिए हैं। इसके अलावा प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर पीईईओ सहित शिक्षाधिकारी भी शामिल हैं। हर जिले में औसत पांच हजार शिक्षकों की ड्यूटी लगी है।

कोरोना ड्यूटी दे रहे शिक्षकों का बराबर ध्यान रखा जा रहा है। एसडीएम स्तर पर कई बार गलत आदेश निकल रहे हैं। जानकारी मिलने पर संबंधित कलेक्टर से बात करके आदेश बदलवाए भी गए हैं। किसी शिक्षक को कोरोना ड्यूटी में चार्जशीट नहीं दी गई है।-सौरभ स्वामी, मा.शि निदेशक

खबरें और भी हैं...