पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • The Residents First Opposed The Municipal Corporation And Finished The Dumping Yard, But Now They Are Dumping Garbage And Debris Themselves

हरियाली का कटोरा कचरे का दाग:रहवासियों ने पहले नगर निगम का विरोध कर डंपिंग यार्ड खत्म कराया, लेकिन अब खुद कचरा-मलबा डाल रहे

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जैन स्कूल से आचार्यों की बगीची जाने वाला रास्ता कचरे और सड़ांध से भर गया है। स्थानीय लोगों की लापरवाही इसके लिए जितना जिम्मेदार है, सजगता उतनी ही रोचक रही है। दरअसल, दो साल पहले नगर निगम ने इस क्षेत्र को डंपिंग यार्ड बनाया था। यूआईटी ने वाहनों की आवाजाही के लिए सड़क बनवा दी थी। शहर का कचरा डालने से यह पूरा इलाका सड़ांध मारने लगा था। आसपास रहने वालों ने विरोध शुरू किया। स्कूल

जाने वाले बच्चों ने भी रास्ते में दुर्गंध की समस्या अभिभावकों से की। पूरा मोहल्ला विरोध में उतर आया। आखिरकार नगर निगम को डंपिंग यार्ड बंद करना पड़ा। लेकिन, डंपिंग यार्ड के विरोध में इलाकाई लोग जितने मुखर हुए, बाद में उतने ही लापरवाह हो गए। निगम ने कचरा डालना बंद कर दिया, लेकिन पुराना हटाया भी नहीं। स्थानीय लोगों ने भी इसकी तस्वीर बदलने की कोशिश नहीं की। लोग यहां कचरा और मलबा डालते हैं। अतिक्रमण होने लगे हैं।

अब दुर्गंध नहीं, फूलों की खुशबू चाहिए

क्षेत्र के लोगोें ने जिस गंदगी से बचने के लिए निगम का विरोध किया, ये आज भी वहां है। इसकी सूरत बदलने के लिए यहां के लोगों को फिर उठना होगा, खासकर युवाओं को। गंदगी-मलबा हटाकर यहां पौधे लगाइये, फूल उगाइये। कचरे का दाग मिटाकर खुशबू बिखेरिए। नगर निगम और यूआईटी के जिम्मेदार अफसर भी यहां के लोगों का साथ दें। कचरा-अतिक्रमण हटवाने में मदद करें। ये हम सबकी जिम्मेदारी है...आखिरकार ये शहर हमारा ही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें