पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • The Students Gave The Test, But Outside The Center, The Guardians Were Seen In Tension, The Children Were Relaxed As Soon As They Came Out.

NEET एग्जाम में दिखा जोश:टेस्ट तो स्टूडेंट्स ने दिया लेकिन सेंटर के बाहर गार्जन टेंशन में नजर आये, स्टूडेंट्स ने कहा आसान था पेपर, हाई जा सकती है मेरिट

बीकानेर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बीबीएस स्कूल के आगे पेरेंट्स बच्चों का इंतजार करते हुए। - Dainik Bhaskar
बीबीएस स्कूल के आगे पेरेंट्स बच्चों का इंतजार करते हुए।

NEET का एग्जाम तो स्टूडेंट्स ने दिया लेकिन नर्वसनेस गार्जन में ज्यादा नजर आई। बीकानेर के 24 सेंटर्स पर आयोजित इस टेस्ट में करीब सात हजार स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया लेकिन सेंटर्स पर गार्जन की संख्या इससे कहीं ज्यादा थी। अधिकांश बच्चों को सेंटर पर छोड़ने के लिए मां-बाप दोनों पहुंचे थे, जब तक बच्चे अंदर नहीं चले गए, तब तक सेंटर पर आंखे गड़ाये बैठे रहे। जैसे ही बच्चे एग्जाम देकर बाहर, वैसे ही उन्हें रिलेक्स करने में जुट गए। एग्जाम में आये प्रश्न सरल बताये जा रहे हैं, जिससे मेरिट एक बार फिर सामान्य वर्ग के लिए छह सौ पार जा सकती है।

बीकानेर बॉयज स्कूल (BBS) ने बीकानेर में इस परीक्षा को कॉर्डिनेट किया। इस स्कूल के आगे ही सबसे ज्यादा भीड़ भी नजर आई क्योंकि सर्वाधिक स्टूडेंट्स ने यहीं पर एग्जाम दिया। इसके अलावा डूंगर कॉलेज के सामने केंद्रीय विद्यालय के आगे भी कतार लगी रही। बाफना स्कूल के आसपास का मार्ग भी NEET के कारण व्यस्त रहा।

पेपर आसान, मेरिट हाई

माना जा रहा है कि पेपर इजी आया है, ऐसे में एक बार फिर मेरिट हाई जा सकती है। पिछली बार सामान्य वर्ग को छह सौ नंबर के आसपास ही सरकारी मेडिकल कॉलेज में प्रवेश मिल पाया था, इस बार भी ऐसा ही प्रतीत हो रहा है कि छह सौ नंबर से ज्यादा लेने वाले स्टूडेंट्स को ही सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन मिल सकेगा। फिजिक्स और केमेस्ट्री कुछ हार्ड रहे जबकि बायोलॉजी ज्यादा इजी रही। अधिकांश बच्चों ने 170 से दो सौ तक प्रश्न अटेंड किए हैं।

कोई बात नहीं बेटा, सब अच्छा होगा

अधिकांश सेंटर पर स्टूडेंट्स ने बाहर आकर अपने पेरेंट्स को बताया कि पेपर कैसा हुआ? इस पर माता-पिता ये कहते ही नजर आए कि कोई बात नहीं अब सब अच्छा होगा। पेरेंट्स का पहला सवाल था कि किस विषय में कितने प्रश्न किए गए। अधिकांश स्टूडेंट्स के लिए बायोलॉजी इजी रहा। इसी में सर्वाधिक प्रश्न किए गए।

अब रिजल्ट पर रहेगी नहर

पेरेंट्स की नजर अब रिजल्ट पर रहेगी। NEET रिजल्ट के रूप में स्टूडेंट्स को मार्क्स दिए जायेंगे। इसके बाद मेरिट के आधार पर देशभर के कॉलेज में एडमिशन होगा। सबसे पहले सेंट्रल सीट्स पर एडमिशन होगा। जिसके तहत एम्स के साथ ही देश के प्रमुख सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन होगा। इसके बाद स्टेट की सीट्स पर एडमिशन होगा। रिजल्ट के बाद काउंसलिंग के लिए स्टूडेंट्स को बुलाया जायेगा।

खबरें और भी हैं...