• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • There Is An Old Political Rivalry Between The Congress Leader And The Attackers, A Day Before The Two Had Come Face To Face, Had Warned Of An Attack Before Navratra.

कांग्रेस नेता को पहले दी थी हमले की चेतावनी:10 साल से दोनों पक्षों में चल रही रंजिश, कईं बार एक-दूसरे पर कर चुके हमले, 1 दिन पहले दूसरे पक्ष के लोगों के साथ की गई थी मारपीट

बीकानेर2 महीने पहले
कांग्रेस नेता मेघ सिंह पर हुआ था जानलेवा हमला।

नोखा में पुरानी रंजिश को लेकर कांग्रेस नेता मेघ सिंह पर हुए हमले के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैली हुई है। बदमाशों ने उनको लाठियों से इतना पीटा कि उनके दोनों पैर फैक्चर हो गए। सिर और कमर पर भी वार किए गए, जिससे उनका काफी खून बह गया। पीबीएम अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में उनका इलाज चल रहा है। दोनों पक्षों के लोग पहले भी रंजिश के चलते एक-दूसरे पर हमले करते रहे हैं। बुधवार को भी दोनों पक्ष आमने-सामने हुए थे और इसके बाद गुरुवार को मेघ सिंह पर हमला हुआ। इस दौरान हमलावरों ने ज्यादा वार मेघ सिंह के पैरों पर किए, ताकि वो चलने-फिरने लायक नहीं रहे।

जानकारी के अनुसार दोनों पक्षों में करीब 10 साल पहले सरपंच चुनाव के दौरान पृथ्वीराज बिश्नोई और बृजलाल सहित कई लोगों से झगड़ा हो गया। इसके बाद से ही दोनों पक्ष एक-दूसरे पर आरोप लगाते रहे हैं और कई बार एक-दूसरे पर हमले भी किए। मेघ सिंह की अपने चचेरे भाई हरिसिंह से भी नहीं बनती। ऐसे में दूसरे पक्ष ने हरिसिंह को साथ लेकर मेघ सिंह पर हमला कर दिया। इससे पहले बुधवार को नोखा में एक पक्ष के लोगों के साथ मारपीट की गई और उनकी बाइक को भी क्षतिग्रस्त कर दिया था। उस दौरान मेघ सिंह को दूसरे नवरात्र से पहले हमले की चेतावनी दी गई थी।

महिला और बच्चा भी साथ
जिस समय कांग्रेस नेता मेघ सिंह की कार को रोका गया, तब वो देशनोक में करणी माता के दर्शन करके लौट रहे थे। उनके साथ दो महिलाएं और एक बच्चा भी था। गोद में बच्चा लिए महिला बार-बार हमलावरों को मेघ सिंह को छोड़ने के लिए कहती रही, लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी और लाठियों से पीटते रहे। हालांकि बदमाशों ने महिला और बच्चों पर हमला नहीं किया।

पुलिस जुटी गिरफ्तारी में
हमले में घायल कांग्रेस नेता को पहले नोखा और वहां से बीकानेर के पीबीएम अस्पताल ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया। मेघ सिंह की हालत ज्यादा खराब होने के कारण देर रात तक पुलिस उनके बयान नहीं ले सकी और एफआईआर भी दर्ज नहीं हो सकी थी। हालांकि पुलिस ने हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए ग्रामीण इलाकों में दबिश देना शुरू कर दिया था। कुछ युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में लेने की जानकारी मिली है। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की। थानाधिकारी इश्वरचंद जांगिड़ खुद इस मामले को देख रहे हैं। जांगिड़ ने बताया कि इस मामले में तीन की पहचान हो रही है, जिसमें हरि सिंह, पृथ्वीराज और बृज लाल शामिल है। शुक्रवार सुबह नोखा थानाधिकारी ईश्वरचंद जांगिड़ ने दैनिक भास्कर को बताया कि अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है, लेकिन प्रयास जारी है।

नोखा में प्रदर्शन
शुक्रवार को नोखा में क्षत्रिय समाज के प्रतिनिधियों ने पुलिस को ज्ञापन दिया। जिसमें मेघ सिंह पर हुए हमले के आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। साथ ही पिछले कुछ महीनों में क्षत्रिय समाज पर हुए हमलों की निंदा करते हुए कार्रवाई नहीं होने पर रोष जताया। नोखा थाने के आगे सुबह से ही भारी भीड़ जमा दिखी।

कांग्रेस नेता को बेरहमी से पीटा, VIDEO:नोखा देहात कांग्रेस अध्यक्ष की कार हाईवे पर रोकी, खींचकर बाहर लाए और लाठियों से हमला; दोनों पैर तोड़े, ट्रॉमा में भर्ती

खबरें और भी हैं...