पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Thousands Of Students Are Going From One City To Another In The Examinations Being Held Across The State, Corona Suspects Surfaced In Sampling At Railway Station, Then Investigation Is Going On

ये एग्जाम तो नहीं ला रहे तीसरी लहर:प्रदेशभर में हो रहे एग्जाम में हजारों स्टूडेंट्स जा रहे हैं एक से दूसरे शहर, रेलवे स्टेशन पर सेम्पलिंग में सामने आए कोरोना संदिग्ध, फिर हो रही जांच

बीकानेर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नीट के एक सेंटर पर अभिभावकों की भीड़ - Dainik Bhaskar
नीट के एक सेंटर पर अभिभावकों की भीड़

राज्य में NEET और पुलिस निरीक्षक भर्ती के दौरान हजारों में स्टूडेंट्स एक से दूसरे शहर में आ जा रहे हैं। ऐसे में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। दरअसल, रविवार को बीकानेर के रेलवे स्टेशन पर हुई जांच में तीन सेम्पल फिर से जांच के लिए भेजे गए हैं और ये तीनों ही यहां NEET का एग्जाम सेंटर पर आए थे। बीकानेर में तीस यात्रियों की जांच हुई, जिसमें 9 की जांच आज पूल में आ गई है यानि संदिग्ध मानते हुए इनकी जांच फिर से की जा रही है। इनमें दो स्टूडेंट्स है, जबकि एक स्टूडेंट के पिता है।

बीकानेर में कोरोना जांच के लिए रविवार को महज 125 सेम्पल लिए गए थे, जिसमें सत्रह सेम्पल रिपीट जांच में आ गए हैं। इसका आशय ये है कि ये है कि इनमें कुछ कोरोना पीड़ित हो सकते हैं। सबसे महत्वपूर्ण ये है कि बीकानेर रेलवे स्टेशन पर लिए गए तीस सेम्पल में से 9 की रिपोर्ट संदिग्ध है। दअरसल, इनके पूल में हुई जांच में एक पॉजिटिव है। आशंका जताई जा रही है कि दो पूल में दो पॉजिटिव मिल सकते हैं। इनकी रिपोर्ट अब शाम तक आयेगी। इसमें दो नीट स्टूडेंट्स है। जो यहां अलग-अलग स्कूल-कॉलेज में एग्जाम देने आए थे। 19 साल की लड़की और उसके पिता तथा एक 18 साल के लड़के की जांच फिर से हो रही है। रेलवे स्टेशन पर हुई जांच में श्रीकोलायत के चार और रानी बाजार के दो सेम्पल भी संदिग्ध है। ये सभी पूल में है और शाम तक इनके नेगेटिव या पॉजिटिव होने का पता चलेगा।

16 साल के लड़की जांच दोबारा

इसके अलावा पीबीएम अस्पताल के कोविड सेंटर में हुई जांच में एक 16 साल के लड़के की जांच भी दोबारा की जा रही है। इसकी रिपोर्ट भी पूल में है। करणी नगर में रहने वाले इस लड़के के अलावा चौखूंटी फाटक के पास रहने वाले 20 साल के युवक की जांच भी दोबारा हो रही है। पीबीएम हॉस्पिटल में ही एक बीस साल के युवक के साथ जामसर, जामा मस्जिद व मयूर विहार में रहने वाले कुछ लोगों के सेम्पल की जांच भी फिर से हो रही है।

पीबीएम अस्पताल में संक्रमण ?

रिपोर्ट से लग रहा है कि बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में एक बार फिर कोरोना रोगी अन्य इलाज के लिए भर्ती हो रहे हैं। दरअसल, तीन टेस्ट सेम्पल में एड्रेस के रूप में पीबीएम अस्पताल लिखा गया है। संभवतया ये पीबीएम अस्पताल में भर्ती रोगियों की रिपोर्ट है। ये तीनों पूल में है और रिपोर्ट शाम तक आयेगी।

17 की जांच अंडर प्रोसेस

इस तरह बीकानेर में महज सवा सौ सेम्पल में सत्रह की जांच फिर से की जा रही है। जिनकी रिपोर्ट अंडर प्रोसेस बताई गई है, जरूरी नहीं है कि उन्हें कोरोना है लेकिन उनकी फिर से जांच आवश्यक हो गई है। एक ही पूल में पांच से छह सेम्पल होते हैं, उनमें किसी एक की जांच पॉजिटिव है तो सभी की संदिग्ध मानकर फिर से जांच की जाती है। पहले दिए एग सेम्पल से ही ये जांच फिर से होती है।

कम हो रही है जांच

रेलवे स्टेशन, रोडवेज बस स्टेंड व प्राइवेट बसों से अभी हजारों की संख्या में स्टूडेंट्स आ जा रहे हैं। ऐसे में इन सभी की जांच नहीं हो रही। रेंडम जांच में सभी का पता नहीं चलता। परीक्षा केंद्रों पर भी आइसोलेशन सेंटर बनाए गए हैं, स्क्रीनिंग भी हो रही है लेकिन औपचारिकता ही पूर्ण हो रही है। सेंटर पर आइसोलेशन खाली ही रहे और वहां कोई संदिग्ध नहीं था।

खबरें और भी हैं...