सड़क हादसे में ड्राइवर और साथी जिंदा जले:आमने-सामने भिड़ंत के बाद डीजल टैंक फटा, एक की मौके पर मौत

बीकानेर7 महीने पहले
इस हादसे में ड्राइवर और उसके साथ की मौत हो गई। इससे पहले इसी हाईवे पर कई हादसे हो चुके हैं।

बीकानेर-जयपुर नेशनल हाईवे पर बुधवार रात 12 बजे एक सड़क हादसे में ट्रक ड्राइवर और उसके साथी जिंदा जल गए। इनमें दो की मौत हाे चुकी है। जबकि एक अन्य ड्राइवर गंभीर घायल है और उसकी स्थिति में भी नाजुक बनी हुई है। बताया जा रहा है दोनों ऐक्स्ट्रा डीजल टैंक लगा था। अंदेशा जताया जा रहा है कि इसकी वजह से आग लगी।

जानकारी के अनुसार सातलेरा गांव के बस स्टैंड से महज 50 मीटर दूर श्रीडूंगरगढ़ की ओर ये हादसा हुआ है। एक ट्रक और ट्रेलर में जोरदार टक्कर हो गई। दोनों की स्पीड में थी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों ने ऐक्स्ट्रा डीजल टैंक लगा रखे थे। भिड़ंत के बाद दोनों फट गए और अचानक से आग लग गई। इसमें ट्रक ड्राइवर और उसका साथी बुरी तरह से जल गए। ड्राइवर के साथी की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि झुलसे ड्राइवर को बीकानेर के पीबीएम अस्पताल रेफर किया गया। लेकिन, बीच रास्ते में दम तोड़ दिया।

हादसे में ट्रक और ट्रेलर बुरी तरह से जल गए। ट्रेलर ड्राइवर भी गंभीर घायल है। पुलिस दोनों मृतकों के बारे में जानकारी जुटा रही है।
हादसे में ट्रक और ट्रेलर बुरी तरह से जल गए। ट्रेलर ड्राइवर भी गंभीर घायल है। पुलिस दोनों मृतकों के बारे में जानकारी जुटा रही है।

श्रीडूंगरगढ़ पुलिस के एएसआई ईश्वर सिंह ने बताया कि रास्ते में दम तोड़ने वाला ट्रेलर का खलासी था। श्रीडूंगरगढ़ की ओर आ रहें कंक्रीट से भरे ट्रक का ड्राइवर भी बुरी तरह जख्मी हुआ है। जिसे आपणो गांव सेवा समिति के सेवादारों ने अस्पताल पहुंचाया और उसे बीकानेर रैफर कर दिया गया।

अब तक पहचान नहीं
ट्रेलर के चालक और उसके साथ की मौके पर ही मौत हो गई। ऐसे में दोनों की पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस को पहले जो नाम पते मिले, वो गलत थे। ऐसे में अब नए सिरे से चालक व खलासी का पता किया जा रहा है।