केस दर्ज:जान से मारने की नीयत से हमला करने का आरोप

नोखाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जान से मारने की नीयत से मारपीट करने का आरोप लगाते हुए बेरासर के ओमप्रकाश जाट ने शनिवार को मुकदमा दर्ज करवाया है। - Dainik Bhaskar
जान से मारने की नीयत से मारपीट करने का आरोप लगाते हुए बेरासर के ओमप्रकाश जाट ने शनिवार को मुकदमा दर्ज करवाया है।

जान से मारने की नीयत से मारपीट करने का आरोप लगाते हुए बेरासर के ओमप्रकाश जाट ने शनिवार को मुकदमा दर्ज करवाया है। ओमप्रकाश ने मुकदमा दर्ज करवाया कि शुक्रवार को मेरे पुत्र राजूराम, जगदीश, कानाराम दीपावली के रामा-श्यामा करने अपनी बोलेरो गाडी में सवार होकर ढाणी से गांव बेरासर की और आ रहे थे।

ज्योही ये भीखाराम सारण के खेत में स्थित रास्ते से गुजर रहे थे तो सामने से एक बोलेरो गाड़ी में सवार होकर मेरा छोटा भाई नंद किशोर व उसके पुत्र मदनलाल व दीनदयाल जाति ब्राह्मण निवासी बेरासर व दो अन्य व्यक्ति आए तथा अपनी गाड़ी को हमारी उक्त गाड़ी के आड़े देकर राजूराम वगैरहा की गाड़ी को रोक लिया।

बाद में सभी ने हाथों में लाठियां लेकर अपनी गाड़ी से नीचे उतर कर आए और मेरे पुत्रों को जबरन गाड़ी से नीचे उतार लिया और जान से मारने की नीयत से चोट मारी। मेरे तीनों पुत्र जान बचाने के लिए भागने लगे तो दीनदयाल ने उन्हें गाड़ी से कुचल कर मारने की नीयत से उनके पीछे गाड़ी भगाई।

इतने में मैं जो उनके पीछे पीछे आ रहा था ने रोला सुनकर मौका पर पहुंचा तो देखा कि सभी मेरे पुत्रों के साथ मारपीट कर रहे थे व हमारी गाड़ी को लाठियों से वार कर तोड़ दिया। जिससे गाड़ी के कांच टूट गए, फाटक व बॉडी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। हमारी गाड़ी में रखे एक लाख रुपए जबरदस्ती निकाल लिए और जाते समय हमें धमकी दी कि हमारे खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाने थाने गए तो जान से मारे बिना नहीं छोड़ेंगे।

खबरें और भी हैं...