नोखा:आचार्य महाश्रमण के शिष्य युवा मुनि आकाश कुमार ने कहा- सेवा भावना से श्रेष्ठ कार्य करें

नोखाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आचार्य महाश्रमण के शिष्य युवा मुनि आकाश कुमार ने कहा कि सेवा भावना से श्रेष्ठ कार्य करें। उन्होंने कहा कि अच्छे कार्यों में समय लगाएं। बुरे कर्म को त्यागे, मानव जीवन श्रेष्ठ होता है। भलाई करके उच्च गति प्राप्त करें। आध्यात्मिक श्रेष्ठ कार्य सेवा के करें।

इस अवसर पर स्वागत गीत का संगान महिला मंडल की अध्यक्ष मंजू बैद एवं मंत्री प्रीति मरोठी ने किया। मुनि हितेन्द्र कुमार भगवान महावीर की स्तुति करते हुए मानव जीवन अनमोल बताया। धर्म ध्यान करने की प्रेरणा प्रदान की। सभा उपाध्यक्ष इन्द्रचंद बैद एवं सुनील बैद, हंसराज भूरा, तेयुप के पूर्व अध्यक्ष रूपंचद बैद ने गुरुकुल वास से आए संत का आगमन सौभाग्य बताया एवं त्याग, तप संयम, साधना पर विचार रखें।

खबरें और भी हैं...