भामटसर 132 केवी जीएसएस चालू:किसानों और लोगों को लाइट ट्रिपिंग की समस्या से मिलेगी राहत, विधायक बोले- विधानसभा सत्र में उठाएंगे मुद्दा

नोखा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रविवार देर शाम को भामटसर 132 केवी जीएसएस चालू करवा दिया गया। जिससे अब किसानों को लाइट ट्रिपिंग से राहत मिलेगी। इसे लेकर नोखा विधायक बिहारीलाल बिश्नोई ने 15 सितम्बर को जयपुर में राजस्थान राज्य विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक टी रविकांत से मिलकर नोखा में विद्युत आपूर्ति में उत्पन्न व्यवधान से किसानों व आम उपभोक्ताओं को हो रही समस्याओं के समाधान करने की मांग की थी।

उसके बाद बीकानेर जिले के अधिकारी हरकत में आए और राजस्थान राज्य विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड के अधिकारी मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियंता, अधिशासी अभियंता, सहायक अभियंता व कनिष्ठ अभियंता भामटसर 132 केवी जीएसएस पहुंचे और विधायक बिहारीलाल बिश्नोई भी मौके पर पहुंचे और 132 केवी जीएसएस को चालू करवाया । इस दौरान सरपंच प्रतिनिधि रामलाल सारण, केदार सारण, पूनम सिंह उपस्थित रहे।

विधायक बिश्नोई ने अधिकारियों को अवगत करवाते हुए कहा कि भामटसर 132 केवी जीएसएस चालू होने के बाद लोड की समस्या को देखते व आगामी होने वाले नए कनेक्शनों की स्थिति को देखते हुए 132 केवी जीएसएस भामटसर पर 25 एमवीए का नया ट्रांसफॉर्मर रखवाकर कुल लोड 50 एमवीए किया जाए। इसके अलावा 132 केवी जीएसएस पांचू पर हाल ही में स्वीकृत नया 25 एमवीए ट्रांसफॉर्मर लगाकर कुछ दिनों बाद उसके स्थान पर 50 एमवीए का ट्रांसफॉर्मर स्वीकृत करके कुल लोड 100 एमवीए किया जाए। नए स्वीकृत 132 केवी जीएसएस मुकाम में 50 एमवीए का लोड स्वीकृत किया जाए। नोखा 220 केवी जीएसएस से भामटसर 132 केवी जीएसएस होते हुए देशनोक 132 केवी जीएसएस की लाईन की क्षमता बढाई जाए या डबल सर्किट बनाया जाए या भामटसर तक की लाइन अलग की जाए।

विधायक बिश्नोई ने कहा कि नोखा सहित जिले में किसानों को पहले से लाईट निर्बाध रूप से 6 घंटे नहीं मिल रही है, बार-बार ट्रिपिंग से मिल रही है । किसानों की फसल चौपट होने के कगार पर है। अब सरकार ने किसानों को 5 घंटे लाईट देने का आदेश जारी कर दिया है जो बहुत ही गलत है। इससे किसान बर्बाद हो जाएगा। इस बारे में 19 सितम्बर से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में मुद्दा उठायेगें और किसानों को 6 घंटे लाइट देने की पुरजोर मांग रखेगें।

खबरें और भी हैं...