पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सड़क की व्यवस्था:नोखा का कृष्णापुर नहर पुल दे रहा दुर्घटनाओं को आमंत्रण

नोखा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नोखा नोनसारी पथ पर नोखा से 5 किलोमीटर पर स्थित कृष्णापुर नहर पुल दुर्घटनाओं का आमंत्र दे रहा है। सिंचाई विभाग द्वारा इस पुल को न बनवाने में कारण सड़क में गड्ढा बन गया है। सिंचाई विभाग उक्त सड़क को मरम्मत के लिए एनओसी नही देने से सड़क का मरम्मत नहीं की जा रही है। दर्जनों गांवों को जोड़ने वाले इस पथ पर ग्रामीणों को आने जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। यह सड़क दर्जनों गांव को जोड़ता है। जहां पर कृष्णापुर नहर पुल से महज 100 मीटर तक गड्ढे में तब्दील है और दोनों ही किनारे सड़क में गढ़े बन गए है।

जिसके कारण अक्सर दुर्घटना होती रहती है। इसमें पैदल , बाइक सवार कई बार गिरकर घायल हो चुके हैं। पीडब्लूडी कोचस डिवीजन में पड़ने वाले नहर पुल के ठीक नीचे कई दुर्घटनाएं हो चुकी है। कृष्णापुर ग्रामीणों का कहना है कि यहां पर सिंचाई विभाग द्वारा पुल बनाकर किसानों की पटवन एवं आने जाने के लिए सड़क की व्यवस्था की जानी चाहिए।

लेकिन इसका निर्माण न होने से कई बार दुर्घटनाएं भी हो चुकी है।इस पथ पर से नोनसारी , सिसिरित, पड़वा सहित कई गांवों के ग्रामीण प्रतिदिन गुजरते हैं । इसके नही बनने के कारण लोगों को अपने समान ले जाने के 20 किलोमीटर ज्यादा दूरी तय करने के लिए बराव गांव के रास्ते आना जाना पड़ता है। जिसके कारण 8 किलोमीटर के रास्ते 20 किलोमीटर का सफर तय करके आने जाने के लिए मजबूर हैं ।

घर निर्माण करना हो तो गिट्टी लदे ट्रैक्टर को सुरक्षित ढुलाई करने के लिए बराव के रास्ते आने पड़ता है। इस रास्ते में सड़क पर उभरे गड्ढे होने के कारण दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। इस संबंध में पीडब्ल्यूडी के कार्यपालक अभियंता संजय कुमार ने कहा कि इसकी निर्माण सिंचाई विभाग को कराना है। उसको एनओसी के लिए भेजा गया है।

खबरें और भी हैं...