नोखा एमजी अंग्रेजी मीडियम स्कूल में दाखिला:लॉटरी प्रकिया के जरिए हुआ चयन, 15 को होगी लिस्ट होगी सार्वजनिक, मुख्य अतिथि नगरपालिका चेयरमैन नारायण झंवर रहे उपस्थित

नोखा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महात्मा गांधी राजकीय इंग्लिश मीडियम विद्यालय जोरावरपुरा नोखा में शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार शनिवार को कक्षा 1 से 8 तक के नव प्रवेशी विद्यार्थियों के लॉटरी प्रक्रिया के मुख्य अतिथि नगरपालिका चेयरमैन नारायण झंवर ने लॉटरी का शुभारंभ किया।

उन्होंने कहा कि यह नोखा शहर का सौभाग्य है कि महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल जोरावरपुरा में शिक्षा में नवाचार का पहला कदम है। अब अपने शहर के सभी इच्छुक उन बालक़ो को सुअवसर मिलेगा जो अंग्रेजी माध्यम से अध्ययन करना चाहते हैं। इस मौके पर एसीबीईओ द्वितीय ओमप्रकाश पुनिया ने पूर्ण पारदर्शिता के साथ लॉटरी आयोजन में अपनी सहभागिता निभाई तथा विभाग के निर्देशानुसार प्रक्रिया सम्पन्न करवाई। जोरावरपुरा विद्यालय के एसएमसी अध्यक्ष बींजाराम व अभिभावक भंवरलाल छींपा ने लॉटरी को पारदर्शिता वाली बताया। प्रवेश प्रभारी लेखराम गोदारा ने बताया की कक्षा 7 और 8 में लॉटरी की आवश्यकता नहीं रही।

कक्षा 1 से 6 तक लॉटरी का आयोजन किया गया, जिसमें कक्षा 1 से 8 की सीटों की संख्या में कक्षा 1 में 30 सीटें, कक्षा दो में 23 सीटें, कक्षा 3 में, 28 कक्षा चार में 23, कक्षा 5 में 21 सीटें, कक्षा 6 में 26 सीटों के लिए लॉटरी का आयोजन किया गया। इसके बाद सहमति देने वाले विद्यार्थियों को शामिल करके अन्तिम रूप से चयनित विद्यार्थियों की सूची बनाई जाएगी। इस अवसर पर ब्लॉक शिक्षा अधिकारी सुरेश कुमार दड़िया ने लॉटरी प्रक्रिया का जायजा लिया।

विद्यालय के प्रधानाचार्य पतराम भादू ने बताया कि सभी कक्षाओं के कक्षा अध्यापक लाटरी की प्रक्रिया द्वारा चयनित होने वाले विद्यालय के समस्त नव प्रवेश की विद्यार्थियों की सूचियां तैयार करके सिलेक्टेड कैंडिडेट की सूचना 15 मई 2022 को विद्यालय नोटिस बोर्ड पर चस्पा करेंगे। विद्यालय के समस्त कार्मिक अपने अपने कार्य के प्रति शानदार तरीके से संवेदनशील रह कर लॉटरी प्रक्रिया को संपन्न करवाया। इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षक श्यामलाल, दिनेश दान, ओमप्रकाश पंचारिया, श्रवण पूनिया, गणपतराम, बृजलाल, महीराम जाणी, सालीनी, ममता, बजरंगलाल कड़वासरा, हरिराम खत्री, इत्यादि ने सलेक्टेड लिस्ट तैयार की। दिनेशदान चारण व सुभाष बिश्नोई ने कंप्यूटर पर सूचियों को अंतिम रूप दिया।

खबरें और भी हैं...