पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जिले के चार पार्क हैं शामिल:पार्कों का जीर्णोद्धार नगर विकास विभाग ने वन विभाग को सौंपने का दिया निर्देश

नोखा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शहरी क्षेत्र में पार्क होने बच्चो एवं बुजुर्गो के लिये मनोरंजन के साधन मिल जायेंगे

राज्य सरकार द्वारा शहरी इलाकों में जब पार्क का निर्माण कराया जाने लगा तो एक समय लगा था कि शहरी क्षेत्र में पार्क होने बच्चो एवं बुजुर्गो के लिये मनोरंजन के साधन मिल जायेंगे। लेकिन यह महज एक दिखावा ही साबित हुआ है। पार्क का तो निर्माण करा दिया गया, लेकिन रख रखाव के अभाव में पार्क अपनी बदहाली पर आंसू बहाने लगा।

बताते चले की नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा पार्को के रख रखाव के लिये 27 मई को पत्र जारी कर पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग को हस्तांतरित करने का पत्र जारी किया था। लेकिन दो माह बीतने को हैं अभी भी किसी भी शहरी क्षेत्र के पार्क को हस्तांतरित नहीं किया गया है।

जिससे पार्क को रख रखवा विकास एवं सौंदयिकरण किया जा सके।जल जीवन हरियाली के तहत सभी पार्क में पेड़ पौधे लगाने एवं उसको स्वच्छ सुंदर बनाने के लिये राज्य सरकार द्वारा यह निर्णय लिया गया था। लेकिन अधिकारी की लापरवाही एवं सुस्ती के कारण अब तक जिले के किसी भी पार्क को हस्तांतरित नहीं किया गया। जिससे पार्क के विकास पर ग्रहण सा लग गया है।

शहर पार्क की दुर्दशा का जिम्मेवार कौन:

रोहतास जिले के शहर में बने कई जगह नए पार्क अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। आखिर इसका जिम्मेवार कौन है? जब शहरी क्षेत्र में है तो इसका रख रखवा का जिम्मेवारी भी नगर परिषद की होनी चाहिए लेकिन नगर परिषद के अधिकारी द्वारा इसका कोई रख रखाव के प्रति उत्सुकता नही रही जिससे पार्क के आधे समान तो टूट गए जो बचे है वह भी जीर्णशीर्ण अवस्था मे है।

नोखा शहर के सूर्य मंदिर तालाब पर स्थित है पार्क
पार्क की हरियाली और खूबसूरती बढ़ाने के लिए नोखा नगर परिषद क्षेत्र के सूर्य मंदिर तालाब के पास स्थित पार्क को वन विभाग के हवाले कर दिए जाएंगे। पार्क का क्षेत्रफल के साथ-साथ वर्तमान स्थिति की रिपोर्ट तैयार की जा रहा है। ताकि विभाग द्वारा डेवलपमेंट की योजना तैयार किया जा सके। वन विभाग पार्क के विकास व सौन्दर्यीकरण कार्य के लिए रूप-रेखा तैयार कर रहा है ताकि यहां के लोगों को बड़े शहरों जैसा पार्क मिल सके। कई

सुविधाएं भी बढ़ेगी। वन विभाग को हस्तानांतरण होने के बाद अब पार्क की खूबसूरती बढ़ेगी। नगर परिषद द्वारा बने इस पार्क में खूबसूरती एवं पर्यावरण के दृष्टिकोण से पेड़-पौधे नहीं लगाये जा रहे थे। पार्क की खूबसूरती पर विशेष ध्यान नहीं दिया जा रहा था।

खबरें और भी हैं...