श्रीडूंगरगढ़ का मामला:लापता युवती का शव जोहड़ में मिला; बाल कटे थे, तीन दिन पहले अपहरण का मुकदमा दर्ज हुआ था

श्रीडूंगरगढ़/बीकानेर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जोहड़ में मिले शव को निकालने का प्रयास करते पालिकाकर्मी। - Dainik Bhaskar
जोहड़ में मिले शव को निकालने का प्रयास करते पालिकाकर्मी।

तीन दिनों से लापता युवती की शव शुक्रवार शाम को कस्बे के गंदे पानी के जोहड़ में उतराता हुआ मिला। शुक्रवार शाम करीब 5 बजे एक शव उतराने की सूचना के बाद पुलिस और नगरपालिका प्रशासन मौके पर पहुंचा। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद शव को बाहर निकाला जा सका। बाहर निकालने पर पता चला कि शव युवती का है।

शव के बाल नहीं होने और पायजामा और टी-शर्ट होने के कारण उल्टा पड़ा शव दूर से किसी पुरुष का लग रहा था। इस कारण पहले कयास कस्बे में चार दिनों से गुमशुदा 62 वर्षीय बुजुर्ग का लगाया गया और पुलिस द्वारा उनके परिवार को भी बुला लिया गया। लेकिन कीचड़ से सने शव को बाहर निकालने और पानी से साफ करने के बाद शव युवती का होने पर पुलिस जांच में जुट गई।

श्रीडूंगरगढ़ थानाधिकारी वेदपाल शिवराण ने बताया कि जाेहड़ में निकला शव युवती का हाेने और जाेहड़ के पास चप्पलें मिलने के बाद कस्बे के कालूबास से पिछले मंगलवार की रात्रि काे अपने घर से निकली 16 वर्षीय नाबालिग युवती प्रियंका साेनी का अनुमान लगाया गया।

युवती के परिजनाें काे माैके पर बुलाया गया और चप्पलाें, हाथ के कड़े एवं कपड़ाें की शिनाख्त कर शव गुमशुदा युवती का ही हाेना जानकारी में आया है। शव काे श्रीडूंगरगढ़ माेर्चरी में रखवाया गया है। शनिवार सुबह मेडिकल बाेर्ड से शव का पाेस्टमार्टम करवाया जाएगा। उसके बाद ही इस संबध में कुछ कहा जा सकेगा। जोहड़ से मृतका का शव निकलवाने के दौरान पालिकाध्यक्ष मानमल शर्मा, भाजपा नेता श्यामसुंदर पुराेहित, पूर्व पार्षद अशोक झाबक आदि उपस्थित थे।

पांच मई काे हुआ था मुकदमा
कस्बे के कालूबास, वार्ड दाे निवासी सुरेन्द्र साेनी ने गत 5 मई काे श्रीडूंगरगढ़ थाने पहुंच कर अपनी नाबालिग बेटी प्रियंका के 4 मई की रात काे 3 बजे के आस पास घर से गायब हाेने की बात कहते हुए अज्ञात के खिलाफ धारा 366ए के तहत अपहरण का आराेप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया था।

खबरें और भी हैं...