कांग्रेस पार्षद 1.50 लाख रुपए रिश्वत लेते ट्रैप:स्ट्रिप ऑफ लैंड में मकान बनाने देने के एवज में मांगी घूस

कोटाएक महीने पहले
एसीबी ने पीड़ित का इशारा मिलने पर घूसखोर पार्षद को रिश्वत की राशि के साथ पकड़ लिया।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) कोटा की स्पेशल यूनिट ने बूंदी में बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। टीम ने नगर परिषद बूंदी के पार्षद रोहित बैरागी को डेढ़ लाख की रिश्वत लेते ट्रैप किया है। रोहित बैरागी वार्ड नम्बर 1 से कांग्रेस पार्टी से पार्षद है। स्ट्रिप ऑफ लैंड (अतिरिक्त भू-पट्टी) में मकान निर्माण कार्य करने देने और परेशान नहीं करने की एवज में पार्षद ने रिश्वत मांगी थी। फिलहाल ACB की टीम कार्रवाई को अंजाम दे रही है। पार्षद को कोतवाली में लाकर पूछताछ में जुटी है। इसमें अन्य नगर परिषद से जुड़े लोगों के शामिल होने की भी संभावना है।

रोहित बैरागी वार्ड नम्बर 1 से कांग्रेस पार्टी से पार्षद है।
रोहित बैरागी वार्ड नम्बर 1 से कांग्रेस पार्टी से पार्षद है।

एडिशनल एसपी ACB स्पेशल यूनिट विजय स्वर्णकार ने बताया कि पीड़ित बालचंदपाड़ा क्षेत्र में स्ट्रिप ऑफ लैंड में मकान बना रहा था। स्थानीय पार्षद रोहित बैरागी ने मकान का काम करने देने और परेशान नहीं करने की एवज में खुद के लिए 1 लाख और नगर परिषद सभापति के नाम पर 50 हजार यानि कुल डेढ़ लाख की रिश्वत मांगकर परेशान कर रहा था। पीड़ित ने इसकी शिकायत कोटा ACB स्पेशल यूनिट से की। शिकायत के बाद टीम ने सत्यापन किया तो उसमें रिश्वत मांगने की पुष्टि हुई। जिसके बाद ACB के एडिशनल एसपी धर्मवीर सिंह व सीआई रमेश चंद आर्य ने टीम के साथ बूंदी जाकर ट्रैप कार्रवाई की।

घूसखोर पार्षद ने पीड़ित से चूड़ी मार्केट स्थित एक दुकान पर रिश्वत की रकम ली। इसके बाद पीड़ित का इशारा मिलते ही ACB की टीम ने पार्षद को पकड़ लिया और कोतवाली लेकर पहुंचे। सूत्रों के अनुसार आरोपी पार्षद व परिवादी के बीच बातचीत का ऑडियो भी ACB ने जब्त किया है, जिसमें कुछ अन्य लोगों के नाम भी सामने आए हैं। ACB ऑडियो की पड़ताल में जुटी है।