महिला की करंट से मौत:घर में लिपाई-पुताई कर रही महिला की करंट से मौत, हाईवोल्टेज से केबल जलकर गिरने का लगाया आरोप

बूंदी17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
करवर. डिस्कॉम दफ्तर के बाहर प्रदर्शन कर रहे परिजनों से अधिकारियों ने समझाइश की। - Dainik Bhaskar
करवर. डिस्कॉम दफ्तर के बाहर प्रदर्शन कर रहे परिजनों से अधिकारियों ने समझाइश की।
  • करवर क्षेत्र की घटना डिस्कॉम ऑफिस (जीएसएस) के सामने परिजनों ने शव रखकर किया प्रदर्शन

करवर करीबी अरियाली बंजारा बस्ती में शुक्रवार सुबह घरेलू कार्य करने के दौरान करंट की चपेट में आने से महिला की मौत हो गई। मृतका के परिजनों ने बिजली तार भिड़ने, घरों में करंट प्रवाहित होने और केबल जलकर गिरने से विवाहिता की मौत होना बताया है। मृतका के परिजनों और पुलिस ने बताया कि शुक्रवार सुबह अरियाली बंजारा बस्ती निवासी ममता बंजारा (35) पत्नी रामलाल बंजारा अपने कच्चे घर में लिपाई-पुताई कार्य रही थी। एकाएक हाईवोल्टेज से केबल जलकर उसके ऊपर आ गिरी। जिसमें करंट प्रवाहित होने से वह बेसुध हो गई। परिजन इलाज के लिए करवर लाए, जहां डॉक्टर ने जांच करके मृत घोषित कर दिया। सूचना पर एएसआई रजनीश राठोर जाब्ता इंद्रगढ़ अस्पताल आ गया।

पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनोंं के सुपुर्द कर दिया। मृतका के पति की रिपोर्ट पर केस दर्ज कर जांच शुरू की।इंद्रगढ़ सीएचसी से पोस्टमार्टम करवाकर वापस गांव में ले जाते वक्त परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर शव को कुछ देर डिस्कॉम जीएसएस के बाहर रोक लिया।शव रखे वाहन के रुकने से एकाएक पुलिस व डिस्कॉम अधिकारी सकते में आ गए। परिजनों ने डिस्कॉम की लापरवाही से घरों में करंट आने, कई घरों में उपकरण जलने की बात कही। एकाएक हाई वोल्टेज आने, केबल जलकर ऊपर गिरने से विवाहिता हादसे का शिकार हुई है। ऐसे में वास्तविकता की जांच कर आर्थिक सहायता देने की जरूरत है। करवर थानाधिकारी हरलाल मीणा, सरपंच प्रतिनिधि नीरज नागर, डिस्कॉम जेईएन अंशुमान सेंगर, उपसरपंच अंतिम दाधीच, सत्यनारायण नागर ने मृतका के परिजनों से समझाइश की।

प्रशासन से वाजिब आर्थिक सहायता, मुआवजा राशि दिलाने का भरोसा दिलाया।जनप्रतिनिधियों, पुलिस व डिस्कॉम की समझाइश से परिजन शव ले जाने को राजी हो गए। जनप्रतिनिधियों ने जिला प्रशासन से मृतका के परिवार की दयनीय हालत को देखते हुए आर्थिक सहायता दिलाने की मांग रखी है।ताऊजी के परिवार में शादी की खुशियां मातम में बदलीमृतका व पति बाहर मजदूरी कर जीवन व्यापन करते हैं। परिवार में शादी होने से 4 दिन पहले ही मृतका का परिवार सीकर से गांव आया था। मृतका के 3 मासूम बच्चे हंसराज (12), लोकेश (9), राहुल (6) हैं। मां की मौत होने से मासूमों पर माता का साया उठ गया। गमजदा परिवार में शुक्रवार को ताऊ इंद्रसिंह की लड़कियों की शादी है।

मांगीलाल व माधवसिंह ने बताया कि वैवाहिक कार्यक्रम होने से रिश्तेदार पहले से ही आ गए थे। शादी की खुशी व रौनक थी, लेकिन हादसे से बस्ती में एकाएक सन्नाटा पसर गया। शादी की खुशियां काफूर होकर मातम में बदल गई।^हादसे की सूचना मिलते ही वह बस्ती का विजिट करके आए हैं। वहां बिजली ट्रांसफार्मर का फ्यूज उड़ा मिला है। 11 केवी बिजली लाइन व घरेलू केबल में करीब 5 मीटर की दूरी है। सभी पहलुओं की जांच की जा रही है। फिलहाल मौका रिपोर्ट डिस्कॉम अधिकारियों को भिजवाई गई है। -अंशुमान सेंगर, जेईएन, डिस्कॉम करवर

खबरें और भी हैं...