आपातकाल की 47वीं बरसी:इमरजेंसी में जेल में रहने वाले सत्यनारायण पलोड का अभिनंदन, कांग्रेस पर साधा निशाना

कपासन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

25 जून शनिवार को देश में आपतकाल की तारीख को 47 साल पूरा होने पर भाजपा ने इसे काला दिवस के रूप में मनाया। कपासन में नगर मंडल महामंत्री सोहन खटीक ने बताया की 25 जून 1975 में आज ही के दिन तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में इमरजेंसी की घोषणा की थी। भाजपा ने आज इस दिवस को काला दिवस के रूप में मनाया। इस अवसर आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता सत्यनारायण पलोड थे। पलोड इमरजेंसी में जेल में रहे थे।

इमरजेंसी को लेकर साधा निशाना
पलोड ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बताया कि तत्कालीन प्रधानमंत्री गांधी ने लोकतंत्र का गला घोट कर देश में इमरजेंसी लगाई थी। इस दौरान सभी विरोधी दल के राजनेताओं को जेल में बंद कर दिया गया और उन पर अत्याचार किया। उस समय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं अन्य राजनीतिक दलों ने आपातकाल का विरोध करते हुए जन जागरण अभियान चलाया। उसके बाद हुए चुनाव में कांग्रेस सत्ता से हट गई थी। कार्यक्रम में पलोड का अभिनंदन किया गया। मंडल अध्यक्ष पंकज सिरोया, नगर पालिका अध्यक्ष मंजू देवी सोनी आदि ने उन्हें मेवाड़ी पगड़ी, साल एवं केसरिया दुपट्टा पहनाकर अभिनंदन किया।

कई भाजापा कार्यकर्ता रहे मौजूद
इस अवसर पर पूर्व नगर मंडल अध्यक्ष नंदकिशोर टेलर ,नगरपालिका उपाध्यक्ष सैयद एजाज अली, जिला मंत्री पुष्पा वैष्णव ,पार्षद एवं उपाध्यक्ष अशोक विजयवर्गीय, मंडल उपाध्यक्ष रामचंद्र गोड़, महामंत्री अशोक शर्मा, सोहन खटीक, आत्मनिर्भर अभियान के भागीरथ चंदेल, पार्षद महबूब शाह किसान मोर्चा के शंभूलाल बागड़ा, ओबीसी मोर्चा के संजय सोनी, युवा मोर्चा के गौरव दाधीच , आशीष सोनी, बूथ अध्यक्ष गोविंद सिंह पवार सहित आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...