राष्ट्रीय लोक अदालत:कपासन में 243 मामलों का निस्तारण, बिजली, टेलिफोन संबंधित बिलों के मामले भी शामिल कर 28 का निस्तारण किया

कपासन8 दिन पहले

कपासन न्यायालय परिसर में शनिवार को आयोजित लोक अदालत में दो बेंचो ने सुनवाई कर 243 मामलों को आपसी सहमति से निस्तारित किए गए। ताल्लुका विधिक सेवा समिति के सचिव हितेश दाधीच ने बताया कि शनिवार को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में दो अलग-अलग न्यायपीठों का गठन किया गया। जिनमें कुल 243 प्रकरण आपसी सुलह से निस्तारित किए गए।

इनमें विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष और वरिष्ठ सिविल न्यायाधीश प्रताप सिंह राठौड़ की अध्यक्षता में गठित न्यायपीठ और सिविल न्यायाधीश शारिक हुसैन की न्यायपीठ में दोनों पक्षों को आपसी राजीनामे से मामलों का निस्तारण किया गया। कुल 243 प्रकरणों को निस्तारित किए। जिसमें 27 प्रकरण वैवाहिक विवाद के, चेक अनादरण के 25 प्रकरण, सिविल के 6 आपराधिक के 15 प्रकरणों का निस्तारण किया गया।

इसके साथ ही न्यायालय में लंबित विभिन्न प्रकार के कुल 142 प्रकरणों को लोक अदालत में विड्रॉ किया गया। इस बार लोक अदालत में बीएसएनएल विभाग, बैंक तथा बिजली विभाग के बकाया बिलों के उपभोक्तओं को भी प्रि लिटिगेशन प्रकरणों के निस्तारण हेतु शामिल किए गए थे। जिनमें इन विभागों के कर्मचारीगण तथा उपभोक्ताओं ने आपसी समझाईश से 28 प्रकरणों को निस्तारित किया गया।

लोक अदालत पीठ के सदस्य अधिवक्ता नरेन्द्र कुमार दाधीच, नायब तहसीलदार ईशाक मोहम्मद, अभियोजन अधिकारी अनिल गहलोत, बार संघ के सदस्यों, न्यायालयों के कर्मचारी शैलेन्द्र टेलर, रीडर मोहनलाल आचार्य, गिरधारी, आकाश, सुरेन्द्र भाटिया, आनन्द,हरेन्द्र, ओमप्रकाश, कुलदीप तथा विभिन्न बैंको के शाखा प्रबंधक, टेलीफोन विभाग के कर्मचारियों का सहयोग रहा।

खबरें और भी हैं...