10 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म:शादी समारोह में आया था, दुष्कर्म के बाद घायल हालत में बच्ची को लेकर पहुंचा शादी में

चित्तौड़गढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी शंभूलाल। - Dainik Bhaskar
आरोपी शंभूलाल।

बस्सी में हुए तीन साल की मासूम बच्ची के दुष्कर्म और हत्या का मामला पूरी तरह खत्म भी नहीं हुआ कि जिले में फिर से एक मासूम को एक दरिंदे ने अपना निशाना बनाया। शादी समारोह में आया एक व्यक्ति ने नशे की हालत में 10 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। मामला पारसोली थाना क्षेत्र के मोतीपुरा ग्राम पंचायत का है।

बिंदोली के बाद बच्ची को ले गया जंगल

पारसोली थानाधिकारी लोकपाल सिंह ने बताया कि मोतीपुरा ग्राम पंचायत के एक गांव में शादी समारोह का आयोजन हो रहा था। इस दौरान रात को बिंदौरी निकाली गई। बिंदौरी के बाद रात के करीब 1:00 बजे नशे में धुत एक व्यक्ति समारोह में मौजूद 10 साल की एक मासूम बच्ची को उठाकर जंगल की तरफ ले गया, जहां उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद उसे घायल हालत में वापस गांव में लाया।

मौजूद लोगों ने दुष्कर्मी की कर दी पिटाई

माताजी की पांडोली निवासी शंभूलाल उर्फ सोनू पुत्र लादू लाल भील मोतीपुरा ग्राम पंचायत में बिंदोली में शामिल होने आया था। वहां पहुंचते ही बच्ची ने अपने पिता को और बाकी घर वालों को सारी बात बताई। इस पर वहां मौजूद लोगों ने दुष्कर्मी की पिटाई कर दी। मौका देख दुष्कर्मी वहां से भाग निकला। परिवार जन बच्ची को लेकर पहले हॉस्पिटल गए और उसका चैकअप करवाया। सुबह परिवार के लोग बच्ची को लेकर पारसोली थाना पहुंचे। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। वहीं, सूचना पर एडिशनल एसपी रावतभाटा ज्ञानप्रकाश नवल, डिप्टी रतना राम देवासी मौके पर पहुंचे।

रात तक जंगलों में सर्च करती रही पुलिस

आरोपी दुष्कर्म करने के बाद अपना मोबाइल कहीं और छोड़कर जंगल की तरफ भागा। आरोपी शंभूलाल की लास्ट लोकेशन और किसी ग्रामीण के बताएं अनुसार पुलिस जब उस तरफ आरोपी को पकड़ने गई तो आरोपी ने अपनी जगह बदल ली। जानकारी में आया कि जिस व्यक्ति ने आरोपी को जंगल की तरफ जाते हुए देखा, उसका कहना था कि शंभूलाल सुबह भी नशे में धुत था।