पदयात्रा का आयोजन:मालवीय ने कहा किसान खेती करें, बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले

चित्तौड़गढ़6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जल संसाधन मंत्री महेन्द्रजीत सिंह मालवीय ने कहा कि गांव में किसान परंपरागत खेती करें, बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले, गांव का अनाज गांव में एकत्र हो तथा वहीं के ग्रामवासियाें के काम आए। स्वराज संदेश संवाद यात्रा का भी यही उद्देश्य है। यह बात उन्हाेंने रविवार काे पाचर चौराहा से गुज़र रही स्वराज संदेश संवाद यात्रा में शामिल होते हुए कही।

उन्हाेंने विनोबा भावे का ज़िक्र करते हुए कहा कि उनकी स्वराज यात्रा के दौरान स्वराज आंदोलन में वागड़ के 31 गांव ग्रामधनी बने, जहां पर आज भी स्वराज की परंपराओं का पालन होता है। वाग्धारा के सचिव जयेश जोशी ने उपरना ओढ़ा कर मंत्री मालवीय का स्वागत किया। वाग्धारा के बाल अधिकार तथा सुरक्षा विशेषज्ञ माजिद खान ने मालवीय का स्वागत किया।

संस्था के परमेश पाटीदार ने धन्यवाद ज्ञापित किया। मान सिंह गरासिया और प्रभुलाल ने अब तक का यात्रा वृतांत बताते हुए सगवाडिया में हुई सभा में समुदाय की सम्पूर्ण भागीदारी के बारे में जानकारी दी। 200 पदयात्रियों के साथ चल रही यह पदयात्रा कल चित्तौड़गढ़ से होते हुई भीलवाड़ा के लिए प्रस्थान करेगी।

खबरें और भी हैं...