कल्लाजी मंदिर के महायज्ञ में शामिल होने पहुंचे लक्ष्यराज सिंह:पहली बार निंबाहेड़ा पहुंचने पर लोगों ने किया जोरदार स्वागत

चित्तौड़गढ़2 महीने पहले
हेलीकॉप्टर से पहुंचे महाराज कुमार लक्ष्यराज सिंह। - Dainik Bhaskar
हेलीकॉप्टर से पहुंचे महाराज कुमार लक्ष्यराज सिंह।

चित्तौड़गढ़ में शेषावतार कल्लाजी वेदपीठ और शोध संस्थान के बैनर तले कल्लाजी मंदिर मंडल न्यास निम्बाहेड़ा का सप्तम कल्याण महायज्ञ महोत्सव मनाया गया। कल्लाजी मंदिर के मनाए गए महायज्ञ महोत्सव में मेवाड़ के पूर्व राजपरिवार के महाराज कुमार लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ मुख्य अतिथि बनकर शामिल हुए। लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ समारोह में शामिल होने के लिए उदयपुर से हेलिकॉप्टर से निम्बाहेड़ा कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे।

लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ ने कहा कि भारत ही दुनिया में एक ऐसा देश है जहां गुरू और माता पिता को पूरा सम्मान दिया जाता है। वहीं मेवाड़ की परम्परानुरूप कल्याण नगरी में ठाकुर श्री कल्लाजी की प्रेरणा से सनातन भारतीय संस्कृति को जिंदा रखने की कोशिश की जाती है। समारोह में बड़ी संख्या में बच्चों और युवाओं को देखकर हृदय गदगद है, क्योंकि बच्चों-युवाओं की अच्छी उपस्थित इस बात की प्रतीक है कि हमारी भावी पीढ़ी भी धर्म-संस्कृति के प्रति प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति, समाज, प्रदेश, देश को सशक्त और प्रभावशाली बनाने की प्रेरणा प्रदान करने के अहम आधार गुरुजन ही होते हैं। भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए युवाओं को धर्म-संस्कृति की पताका को फहराते रहना होगा। जो काम हमारे पुरखे करते आए हैं उन्हीं के पद चिह्नों पर चलने का हम कोशिश करते आ रहे हैं।

लोगों ने किया जमकर स्वागत।
लोगों ने किया जमकर स्वागत।

पहली बार आने पर हुआ जोरदार स्वागत
महाराज कुमार लक्षराज सिंह मेवाड़ के पहली बार निम्बाहेड़ा आने पर नगरवासियों ने जोरदार स्वागत किया। जैसे ही महाराज कुमार हैलीकॉप्टर से कॉलेज ग्राउण्ड पर पहुंचे। लोगों ने वहीं से महाराज कुमार का स्वागत करना शुरू कर दिया। सर्वसमाज ने बीच रास्ते में हूं तोरण द्वार बनाकर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।