सीएम को दो ज्ञापन प्रस्तुत किए:सीएम को ज्ञापन देकर बताई समस्याएं

चित्तौड़गढ़15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सीएम अशोक गहलोत के निम्बाहेड़ा आगमन पर उन्हें मांगों के संबंध में ज्ञापन दिए। बाल कल्याण समिति के पूर्व अध्यक्ष रमेश दशोरा ने सीएम को दो ज्ञापन प्रस्तुत किए। इसमें निंबाहेड़ा जिला अस्पताल बनने से उस क्षेत्र में बढ़ रहे असुरक्षित परित्याग के मामलों को देखते हुए चिकित्सालय में क्रेडल पॉइंट स्थापित करने की मांग करते हुए कहा कि नवजात शिशु का असुरक्षित परित्याग से नवजात शिशुओं को झांड़ियों में व खतरनाक स्थानों पर जन्म के बाद फेंक दिया जाते हैं।

उस क्षेत्र में बाल कल्याण समिति से कई प्रकरण दर्ज हो चुके हैं। इसलिए जिला अस्पताल बनने से वहां एक क्रैडल पॉइंट की स्थापना होनी चाहिए। जिले में 18 वर्ष से कम उम्र के बालकों में नशे की प्रवृत्ति बढ़ने की प्रक्रिया पर भी चिंता जताते हुए एक नशा मुक्ति ग्रह बाल अधिकारिता विभाग की स्वीकृति की मांग रखी।

इधर राजस्थान विद्यार्थी मित्र पंचायत सहायक संघ के बैनर तले प्रदेश महामंत्री संपत जाट व बड़ीसादड़ी ब्लाक अध्यक्ष रामेश्वरलाल गायरी के नेतृत्व में नियमितीकरण की मांग को लेकर पंचायत सहायकों की संविदा सेवा नियम 2022 के तहत स्क्रीनिंग व शिक्षा विभाग में अडाप्टिग प्रकिया को जल्द शुरु करवाने व निर्धारित मानदेय 21000 दिलवाने की मांग को लेकर ज्ञापन दिया।

कांग्रेस सेवादल जिलाध्यक्ष मोहनलाल गाडरी ने सीएम को बताया कि बनास नदी ( राजसमंद) से विशेष फीडर का निर्माण राज्य सरकार ने कराया था, लेकिन फीडर में अवरोध होने से नदी में रेत का अवरोध एवं फीडर से अन्य अवरोध हटा शीघ्र कपासन विस के कपासन, भूपालसागर , धमाणा, डिंडोली ,सिंहपुर तालाब एवं डिंडोली तालाब से चित्तौड़गढ़ विस क्षेत्र में (बनाकिया खुर्द) तालाबों को जल भराव कराने की मांग की। जिला सचिव अंबालाल शर्मा ने भी स्वागत किया।

खबरें और भी हैं...