माइनिंग रोकने के लिए किया हमला:दस बदमाशों ने एक परिवार पर किया जानलेवा हमला, फोड़े गाड़ी के कांच

चित्तौड़गढ़3 महीने पहले
युवक पर हमला करते हमला वार। 

माइनिंग के काम को रोकने के लिए हथियारों से लैस 10 युवकों ने एक परिवार पर हमला कर दिया। साथ ही घर के बाहर खड़ी कार के कांच फोड़ दिए और सीसीटीवी कैमरे भी तोड़ दिए। इस हमले से महिला सहित तीन लोग घायल हो गए। वहीं, महिला ने हमलावरों पर लज्जा भंग का भी आरोप लगाया। मामला निंबाहेड़ा कोतवाली थाना क्षेत्र का है। पुलिस में इसकी एक रिपोर्ट दी गई है।

कोतवाली थाना अधिकारी तुलसीराम ने बताया कि जावद दरवाजा के पास रहने वाली एक महिला ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है कि आज बुधवार को दोपहर में वह अपने घर में ही परिवार के साथ घर का काम कर रही थी। उसका बेटा बाहर लगी आटा चक्की पर काम कर रहा था। इस दौरान शाहरुख पुत्र अल्ताफ, मुहसीन पुत्र अल्ताफ, सोहेल पुत्र अल्ताफ, खुशनूर पुत्र अहमद नूर, बटन मिस्त्री पुत्र अहमद नूर, कोहिनूर पुत्र अहमद नूर, पारू पुत्र अहमद नूर, शाना पुत्र अहमद नूर, शाहबाज पुत्र गुड्डन, शादाब पुत्र गुड्डन तलवार, लोहे की पाइप, स्टिक, लठ लेकर अचानक घर के अंदर घुस आए और परिवार पर हमला कर दिया।

गाड़ी के कांच फोड़ते हुए बदमाश।
गाड़ी के कांच फोड़ते हुए बदमाश।

गल्ले से निकाले 20 हजार रुपए

रिपोर्ट में बताया गया कि घर में लगी आटे की चक्की, मुख्य दरवाजा, गेहूं के कट्टे, आटा के कट्टे सब तोड़ दिए। आटा चक्की के अंदर रखा हुआ गला तोड़कर 20 हजार रुपए निकाल लिए। इसके बाद घर के बाहर खड़ी बोलेरो कार के कांच फोड़े और बाहर लगे दो सीसीटीवी कैमरे भी तोड़ दिए। महिला ने आरोप लगाया कि शाहरुख और मोहसिन ने महिला के कपड़े भी फाड़ दिए। महिला ने रिकॉर्ड हुए सीसीटीवी फुटेज पुलिस को सौंप दिए। पुलिस ने मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

माइनिंग रोकने के लिए दी थी धमकी

जावेद दरवाजा निवासी रेहान मंसूरी ने बताया कि अंबामाता में उनके पत्थर की खदान है, जिस पर यह आरोपी परिवार उन्हें काम नहीं करने देता है। आए दिन डराने धमकाने का काम करते हैं। इसके बावजूद भी माइनिंग का काम नहीं रुका। आरोपी पक्ष को इस बात की नाराजगी थी। इसके अलावा जावद दरवाजा के पास यह सट्टा खेलने का भी काम करते थे, जिसकी सूचना पुलिस को दिए जाने पर बदला लेने के लिए इन लोगों ने यह हमला किया।