चित्तौड़ से सीनियर सिटीजन यात्रा के लिए हुए रवाना:राज्य सरकार की योजना, रामेश्वरम के करेंगे दर्शन

चित्तौड़गढ़6 दिन पहले
ट्रेन से रवाना होते यात्री।

राज्य सरकार की ओर से निकाली जा रही सीनियर सिटीजन तीर्थ यात्रा योजना में रामेश्वरम जाने वाली ट्रेन बुधवार देर शाम चित्तौड़गढ़ पहुंची है। चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन से 344 यात्री ट्रेन में सवार हुए। देर शाम स्टेशन पर यात्रियों और उनके परिवार की भीड़ लगी थी। तीर्थ यात्रियों के डॉक्यूमेंट्स की जांच और टिकट देने को लेकर बुधवार को पूरा दिन प्रोसेस चलता रहा। रात को ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना हुई जो कि 1 फरवरी को फिर से लौटेगी।

देवस्थान आयुक्त उदयपुर के सहायक आयुक्त जतिन गांधी ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से सीनियर सिटीजन तीर्थ यात्रा योजना 2023 निकाली हुई है। इस योजना में अब तक 10 ट्रेन रवाना हो चुकी है और 11वीं ट्रेन बुधवार को अजमेर से रवाना हुई। इसमें अजमेर और उदयपुर संभाग के तीर्थ यात्रियों को रामेश्वर ले जाया जा रहा है। उदयपुर संभाग में भी चित्तौड़गढ़ और प्रतापगढ़ जिले के यात्री चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन से सवार हुए।

चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन पर 344 यात्री ट्रेन में बैठे, जिनमें से चित्तौड़गढ़ जिले के 212 यात्री और प्रतापगढ़ जिले के 132 है। इन तीर्थ यात्रियों को देवस्थान विभाग की ओर से दोपहर दो बजे ही रेलवे स्टेशन पर बुलाया गया था लेकिन कई तीर्थयात्री समय से पहले ही चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन पहुंच गए। यहां पर देवस्थान विभाग की ओर से अच्छी व्यवस्था की गई थी। यहां प्लेटफार्म नंबर 5 के पास में टेंट लगा कर यात्रियों के बैठने की व्यवस्था की गई थी और देवस्थान विभाग की ओर से तीर्थ यात्रा में जाने वाले तीर्थ यात्रियों के डॉक्यूमेंट्स की जांच की जा रही थी। तीर्थ यात्रियों के साथ बड़ी संख्या में उनके परिवार जन भी उन्हें रेलवे स्टेशन ट्रेन पर बिठाने आए थे। ऐसे में यहां मेले जैसा माहौल देखने को मिला था।

डॉक्यूमेंट्स की हुई जांच।
डॉक्यूमेंट्स की हुई जांच।

भोजन से लेकर अन्य सुविधाएं भी मिलेगी
देवस्थान आयुक्त उदयपुर के सहायक आयुक्त जतिन गांधी ने बताया कि रामेश्वरम जाने वाले तीर्थ यात्रियों की सुविधाओं को लेकर देवस्थान विभाग के अधिकारियों के अलावा अन्य सरकारी कर्मचारी भी लगे हुए हैं। यहां प्रतापगढ़ और चित्तौड़गढ़ जिले के लिए अलग-अलग काउंटर लगाए गए। इनके नाश्ते की व्यवस्था भी की गई थी। ट्रेन में इनके लिए भोजन की भी व्यवस्था है। सभी को टिकट और सीट के आवंटन का कार्य किया गया। यहां पर सरकारी कर्मचारियों ने भी मदद की है।

अपनी बारी का इंतजार करते यात्री।
अपनी बारी का इंतजार करते यात्री।

ट्रेन में तीर्थ यात्रियों समेत कुल 1100 जाएंगे रामेश्वरम
देवस्थान विभाग उदयपुर के सहायक आयुक्त जतिन गांधी ने बताया कि इस ट्रेन में यात्रियों के अलावा स्टाफ सहित कुल 1100 लोग रामेश्वर तक जाएंगे। उन्होंने बताया कि इस ट्रेन में 15 कोच है और हर कोच में दो अनुरक्षक तीर्थ यात्रियों की सुविधा के लिए लगाए गए हैं। एक राजपत्रित अधिकारी ट्रेन प्रभारी के रूप में अजमेर से नियुक्त किए गए हैं।

तीर्थ यात्रियों के स्वास्थ्य की जांच के लिए एक डॉक्टर और दो नर्सिंग कर्मी रहेंगे। ऐसे में कुल 34 का स्टाफ रहेगा। साथ ही राजस्थान के अजमेर और उदयपुर संभाग से 1066 यात्री और 34 का स्टाफ मिला कर 1100 लोग यात्रा करेंगे। इसे ट्रेन में अजमेर के 408 और भीलवाड़ा के 314 यात्री हैं।