निंबाहेड़ा:श्री राधा कृष्ण मन्दिर का 32वां वार्षिकोत्सव, भक्ति भजनों पर झूमें भक्त

निम्बाहेडा11 दिन पहले

निम्बाहेड़ा में श्री राधाकृष्ण मन्दिर का 32 वां वार्षिकोत्सव श्रद्धा एवं उल्लास से पूर्ण भक्तिभाव से मनाया गया। इस पावन अवसर पर मन्दिर परिसर को सुगन्धित पुष्पों, बहुरंगी पताकाओं एवं विद्युतीय सज्जा से सुसज्जित किया गया।

मन्दिर गर्भ गृह में स्थापित भगवान श्री यदुर्रेश्वर महादेव, श्री राधा कृष्ण जी एवं श्री हनुमान जी की प्रतिमाओं का मनोहारी शृंगार किया गया। प्रात: कालीन वेला में मुख्य पुजारियों के सानिध्य में मन्त्रोच्चार एवं आध्यात्मिक परिवेश में वैदिक विधि विधान से हेड-टेक्नीकल जयन्त मल्हौत्रा एवं पूनम मल्हौत्रा ने श्री यदुर्रेश्वर महादेव की पूजा एवं महाभिषेक किया तथा श्री राधाकृष्णजी एवं श्री हनुमानजी की विशिष्ट पूजा अर्चना की।

इस अवसर पर अधिकारीगण व बड़ी संख्या में भक्तजन उपस्थित थे। सांयकालीन वेला में श्री राधा कृष्ण जी की श्रंगारित लघु प्रतिमाओं को शोभायात्रा सुसज्जित रथ में प्रतिस्थापित किया गया। विविध पुष्पों से सुरभित रथ की अगवानी में जयन्त मल्हौत्रा, एस. के. खण्डेलवाल, मनीष तोषनीवाल, अनिल जैन, जयकुमार, बसन्त गुप्ता, प्रखर श्रीवास्तव, प्रभाकर मिश्रा, पंकज त्रिवेदी, दिलीप धाकड़, डॉ. एसके चौधरी, समीर पूजारी, मनमोहन काकानी, अजय कुमार उपाध्याय, तुलसी दास सनाढ्य, अरविन्द सिंह राठौड़, विकास सरावगी, श्रमिक संघ पदाधिकारी नाहरसिंह देवड़ा, भेरूसिंह चुंडावत, सत्यनारायण मेनारिया, वरिष्ठ अधिकारीगण, श्रमिक गण एवं भक्तजन भजन रूपी सरिता प्रवाहित करते चल रहे थे तथा सुखद अनुभूति प्राप्त कर रहे थे।

विशाल एवं भव्य शोभायात्रा की अगुवाई श्रीराधाकृष्ण मन्दिर वार्षिकोत्सव की पताका से हुई, जिसके पीछे भजनमय स्वर लहरिया प्रसारित करते बैंड, खुली जीप में लहराती मन्दिर पताका ने धर्म ध्वजा उठा रखी थी। मनोहारी झांकियों के साथ सुरभि महिला क्लब की सदस्य सुमधुर स्वरों में भजन कीर्तन कर रही थी। दूसरी ओर स्थानीय भीमकेश्वर महिला भजन मंडली एवं मारवाड़ी भजन मण्डली के श्रद्धालुगण भक्ति गीतों से परम आनन्द की अनुभूति प्रदान कर रहे थे।

यात्रा के दौरान जगह-जगह श्रद्धालुओं ने पुष्प वर्षा से स्वागत और पूजा अर्चना कर धर्मलाभ प्राप्त किया। मन्दिर परिसर में भगवान श्रीराधाकृष्ण की महाआरती की गई और प्रसाद वितरण किया गया। इस मौके पर श्री खाटू श्याम मित्र मण्डल द्वारा मन्दिर परिसर में भजन संध्या का आयोजन किया गया, जिसका सभी उपस्थित श्रद्धालुओ ने भरपूर आनन्द लिया।

खबरें और भी हैं...