'राहुल गांधी के साथ चिपकने से कोई CM नहीं बनता':दिव्या की फोटो पर भाजपा नेता और बेनीवाल का कमेंट; बोले- इनकी शादी कराओ

सरदार शहर (चूरू)6 दिन पहले

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा जैसे-जैसे राजस्थान की ओर बढ़ रही है, वैसे ही सियासी सरगर्मियां भी तेज होने लगी हैं। यात्रा से जुड़ी फोटो और शामिल नेताओं को लेकर विरोधी कुछ न कुछ तंज कसते हुए दिख रहे हैं।

अब ओसियां (जोधपुर) से विधायक दिव्या मदेरणा की राहुल गांधी के साथ एक फोटो को लेकर भाजपा नेता के साथ राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) अध्यक्ष ने भी इशारों-इशारों में कमेंट किए हैं।

राहुल के साथ भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई कई एक्ट्रेस व महिला नेताओं को लेकर तो सांसद हनुमान बेनीवाल ने ये तक कह दिया कि 'चिपकने से कोई सीएम नहीं बनता है'।

बेनीवाल ने यह बयान सरदारशहर (चूरू) उपचुनाव में प्रचार के दौरान दिया। इससे पहले उत्तर प्रदेश में भाजपा के पूर्व विधायक अरुण यादव ने भी दिव्या-राहुल की फोटो ट्वीट करते हुए यूजर्स से कैप्शन मांगे थे। इसके बाद दिव्या मदेरणा ने कई ट्वीट करते हुए नीचतम स्तर की राजनीति बताया था। वहीं, सोशल मीडिया यूजर्स ने भी अरुण यादव को ट्रोल करना शुरू कर दिया था।

एक फोटो से सियासी बवाल

कांग्रेस की तेज-तर्रार विधायक दिव्या मदेरणा दरअसल 21-22 नवंबर को महाराष्ट्र में भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई थीं। इस दौरान राहुल गांधी ने उनका माथा चूमा था। दिव्या ने यही फोटो 23 नवंबर को ट्वीट की थी। इसके बाद इस फोटो को लेकर सियासी तंज और बयानबाजी शुरू हो गई।

इसी दिन शाम को सांसद हनुमान बेनीवाल बिना नाम लिए दिव्या की फोटो पर जमकर तंज कसे। उन्होंने कहा कि किसान की बेटियां राहुल से चिपक-चिपक कर फोटो ले रही हैं। क्या उससे कोई मुख्यमंत्री बनता है क्या..?

क्या कहा सांसद हनुमान बेनीवाल ने-
जिस तरह आप महिलाओं का अपमान कर रहे हो,..ये क्या यहां कोई इंग्लैड और अमेरिका थोड़े ही है, जो आधे कपड़ों में लोग घूम रहे हैं। हमारे कई किसान की बेटियां और अभिनेत्रियां राहुल के चिपक-चिपक कर फोटो ले रही हैं, उससे कोई मुख्यमंत्री बनता है क्या..? उनकी अकल का दिवाला निकल गया, उनका भी साथ में राहुल गांधी का भी।

मैं अशोक गहलोत साहब से अपील करना चाहता हूं, गहलोत जी को अपील का बड़ा शौक है। आपने विधानसभा में कहा था ना कि राहुल और प्रियंका मेरे बच्चे जैसे हैं, मैनें उन्हें गोद में खिलाया है। इसलिए मैं कहना चाहता हूं कि आप राहुल गांधी की शादी कराओ, इसका दिमाग खराब हो गया है। ये भारत को जोड़ेगा या नहीं जोड़ेगा ये मुझे पता नहीं, लेकिन एक दिन ऐसा बवंडर कर देगा देश के अंदर जो कांग्रेस खामियाजा उठाना पड़ेगा।

55 साल उम्र हो गई, शादी की भी उम्र होती है, मेरी भी शादी लेट हुई थी, 34-35 साल के लगभग में मेरी शादी हुई थी। ये तो मेरा भाई मेरे से भी 20 साल आगे चल रहा है, तो 55 के बाद शादी नहीं करते। इसलिए मेरी कांग्रेस नेताओं से अपील है कि आपस का झगड़ा छोड़ो, पहले अपने पार्टी के नेता ब्याह कराओ, सबको जीमणे के लिए बुलाओ और इसका घर बसाओ पहले और उसे बाद भारत को जोड़ो, ये मेरी कांग्रेस पार्टी से अपील है'

सरदारशहर विधायक पंडित भंवरलाल शर्मा का निधन हो जाने के बाद वहां उपचुनाव हो रहा है। जिसके तहत पांच दिसंबर को मतदान होगा।
सरदारशहर विधायक पंडित भंवरलाल शर्मा का निधन हो जाने के बाद वहां उपचुनाव हो रहा है। जिसके तहत पांच दिसंबर को मतदान होगा।

देखिए, लाड प्यार अलग होता है, किसी का स्नेह अलग होता है, लेकिन इस तरह की हरकतें करना बिल्कुल ही एक राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष को अच्छा नहीं लगता। मैं उन अभिनेत्रियों और नेत्रियों से भी अपील करुंगा कि इस तरह आप पोपुलरिटी पाने के लिए जिस तरह की हकरतें कर रही हो और सोशल मीडिया पर जिस तरह फोटा अपलोड कर रही हो।

इससे समाज की भी इनसल्ट होती है, किसान की भी इनसल्ट होती है। आपके समर्थकों के अंदर भी रोष होता है कि हमारी नेत्री क्या कर रही हैं। हमारे नेताओं, नेत्रियों को सीमाओं का ध्यान रखना चाहिए।

शादी की नसीहत पर भड़के थे समर्थक

दिव्या और हनुमान बेनीवाल के बीच राजनीति खींचतान लंबे समय से जारी है। दोनों ही नेता एक-दूसरे पर सियासी बयानबाजी का कोई मौका नहीं छोड़ते हैं। करीब पांच महीने पहले बेनीवाल को दिव्या को शादी की नसीहत दी थी। जिसके बाद मदेरणा के गुस्साए समर्थकों ने जमकर हंगामा किया था। इसके बाद बेनीवाल ने कहा कि मैंने कोई गलत बात तो कही नहीं। इतना ही कहा था कि शादी की उम्र निकल जाएगी।

राजनीतिक जमीन के लिए लड़ाई

मारवाड़ में लगातार बेनीवाल की पार्टी अपना विस्तार कर रही है। साल 2018 के विधानसभा चुनावों से ठीक पहले बनी आरएलपी ने बाड़मेर और नागौर के साथ जोधपुर में काफी अच्छी राजनीतिक जमीन तैयार कर ली थी। विधानसभा में 3 विधायकों के अलावा बेनीवाल ने पिछले साल हुए पंचायती राज चुनावों में भी किस्मत आजमाने का फैसला किया और मदेरणा परिवार के गढ़ ओसियां में सेंध लगाने में कामयाब रहे। ऐसे में हनुमान बेनीवाल और दिव्या मदेरणा की तल्खियों को हवा पिछले साल पंचायत चुनाव के बाद मिलना शुरू हो गई थी।

भाजपा नेता पर बरस पड़ीं दिव्या

भाजपा नेता अरुण यादव ने दिव्या-राहुल के फोटो वाले ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कैप्शन मांगा था। इसके जवाब में दिव्या ने सात ट्वीट करते हुए राहुल को अपना संरक्षक, बड़ा भाई और अभिभावक बताया। उन्होंने लिखा कि भारत जोड़ो यात्रा को लेकर भाजपा में असुरक्षा साफ दिख रही है। उन्होंने लिखा कि राजनीतिक रू से टारगेट करने के लिए कोई बेहतर तरीका तलाश कीजिए।

दिव्या ने आगे लिखा75 दिनों से राहुल गांधी राहुल गांधीजी अपनी यात्रा के दौरान बच्चों, महिलाओं, लड़कियों, बुजुर्गों, आम वर्कर से लेका सासंद—विधायकों से स्नेहपूर्वक मिल रहे हैं। इस तस्वीर में कुछ भी असामान्य नहीं है जो बीजेपी के लोग ट्रॉल कर रहे हैं, यह दिखाता है कि आप लोग संतुलन खो चुके हैं।

उन्होंने कहा कि- एक दल के शीर्षतम नेता का अपने लोगों को इतनी करुणा भाव से अहसास करना कि आप कांग्रेस परिवार का अमूल्य हिस्सा हैं, यह दर्शाता है कि वह कांग्रेस के कट्टर समर्थकों के प्रति कितने संवेदनशील और भावनात्मक रूप से जुड़े हैं। ये मानवीय गुण आप जैसे नेताओं में विलुप्त हैं।

ये खबर भी पढ़ें...

OBC आरक्षण पर भाजपा सरकार का फैसला वापस हाेगा:गहलोत बोले- युवाओं की मांग सही, 16 राज्यों और केंद्र का मॉडल लागू करेंगे

OBC आरक्षण विसंगति को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जल्द कैबिनेट में फैसला करने की घोषणा की है। गहलोत ने पिछली बीजेपी सरकार के समय 2018 में जारी सर्कुलर को वापस लेने के संकेत दिए हैं। गुरुवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में OBC आरक्षण पर फैसला होना तय माना जा रहा है। (यहां पढ़ें पूरी खबर)

खबरें और भी हैं...