शराब मुक्त गांव में नशा बेच रहे माफिया:SDM ने दिए अवैध दुकानें हटाने के निर्देश, 2018 में शराबबंदी के समर्थन में हुआ था 99.99% मतदान

सरदार शहर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सरदारशहर तहसील की ग्राम पंचायत फोगा भरतरी को 2018 में शराब मुक्त घोषित कर दिया गया था। फरवरी में उदयपुर आबकारी आयुक्त व जिला कलेक्टर के आदेशों अनुसार सरकार ने मतदान डलवाया था। 99.99 प्रतिशत मतदान शराब बंदी के समर्थन में हुआ था। अब फोगा फरतरी ग्राम पंचायत के नाम से कोई शराब की दुकान स्वीकृत नहीं होती है। लेकिन आबकारी विभाग के अधिकारियों के साथ शराब माफिया मिलकर गांव में जगह-जगह अवैध शराब बेच रहे है।

ग्रामीणों ने बताया कि अवैध शराब बेचने के विरोध में पूरा गांव उतरा हुआ है, इसके बाद भी अवैध शराब की दुकानों को नहीं हटाया जा रहा है। यहां लोग शराब के नशे में बहन-बेटियों के साथ अभद्र व्यवहार करते हैं और झगड़ा-फसाद करते हैं। मामले में डॉ. सत्यनारायण झाझड़िया के नेतृत्व में ग्रामीणों ने अवैध शराब माफियों के खिलाफ एसडीएम को मुख्यमंत्री व आबाकारी आयुक्त के नाम ज्ञापन सौंपा। एसडीएम ने सबंधित अधिकारी को अवैध शराब की दुकानें हटाने का निर्देश दिया।

इस मौके पर रामलाल स्वामी, भंवरलाल लुहार, महावीर मेघवाल, रामदास, वासुदेव, अर्जुन चौटिया, हरिप्रसाद, कुभाराम , गोपालराम आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...