फूड सेफ्टी स्टैंडर्ड पर राजस्थान को नंबर-1 बनाने की तैयारी:हर जिले को 15 पॉइंट के आधार पर मिलेगी रैंकिंग, मिलावटखोरों पर कसेंगे शिकंजा

सुजानगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान को फूड सेफ्टी स्टैंडर्ड पर देश में पहले नंबर पर लाने की तैयारी कर ली गई है। हर जिले को 15 पॉइंट के आधार पर न केवल रैंकिंग और अंक मिलेंगे, बल्कि रजिस्ट्रेशन, लाइसेन्स, एनुअल रिटर्न, ईट राइट कैंपस, कितने मामले में सजा, मौके पर कितनी मात्रा में नष्ट करवाया, सैपलों में कितने पास फेल और अनसेफ जैसे बिन्दुओं पर रैंकिंग जारी होगी।

खाद्य सुरक्षा अधिकारियों को 15 सैंपल फूड सेफ्टी एक्ट और 5 सर्विलेंस के तहत लेने होंगे। अंकों का निर्धारण मार्च 2023 तक होगा। अभी कमिश्नरेट फूड सेफ्टी एंड ड्रग सिर्फ नमूने लेने का ही काम करता है। चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा व चिकित्सा सचिव डॉ. पृथ्वी के निर्देश पर नया सिस्टम लागू किया गया है। कमिश्नर (फूड सेफ्टी एंड ड्रग) सुनील शर्मा की ओर से लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है।

खबरें और भी हैं...