तेज धूप में कड़ी तपस्या:बारिश, मानव कल्याण, विश्व शांति, देश में अमन चैन और खुशहाली की कामना

सुजानगढ़10 दिन पहले

47 डिग्री टेम्परेचर में जहां कोई थोड़ी देर भी धूप में खड़े होने से बचता है, वहीं बीदासर के उतरादा बास स्थित गोगामेड़ी में बाबा बन्नानाथ तपती धूप में बैठकर कड़ी तपस्या कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार संत बन्नानाथ भीषण गर्मी के अंदर बिना कुछ खाए पिए रोजाना 3 घंटे बारिश, मानव कल्याण, विश्व शांति, देश में अमन चैन और खुशहाली की कामना को लेकर कठिन तपस्या कर रहे हैं।

वे पिछले 12 सालों से यह तपस्या करते आ रहे हैं। इस बार बाबा गर्मी में एक महीने यह तपस्या करेंगे। आज बाबा की तपस्या का 14वां दिन था। बाबा ने कई जगहों पर तपस्या की जिसमें मावडे माता के मंदिर में 3 साल, बाबा भोलेनाथ अखाड़ा में 2 साल, ईंदपालसर स्थित रामरतन धोरे पर 3 साल, रामदेवरा स्थित गुसाईं बाबा के मंदिर में 1 साल तथा इस गोगामेड़ी में पिछले 3 सालों से खड़े रहकर मौन तपस्या करते आ रहे हैं।

तपस्या के दौरान हो रहा कीर्तन

दूसरी ओर गोगामेड़ी परिसर में बाबा के अनुयायियों द्वारा हरे राम-हरे कृष्णा का अखंड कीर्तन नियमित रूप से किया जा रहा है। इस दौरान गोपाल पंवार, मुकेश कुमार रक्षक, खेताराम, सुरेंद्र सिंह बिदावत, टीकाराम बावरी, पूनमसिंह भगत, विकास भोजक, देवेंद्र सिंह पंवार, सुरेंद्र सिंह बिदावत, तेघसिंह शेखावत, सोहनलाल, मनोजकुमार, पेमाराम आदि लोग बाबा की सेवा में लगे हुए हैं।

खबरें और भी हैं...