मटका फोड़कर जताया रोष:पानी की बूंद-बूंद को तरसे ग्रामीण, गुस्साईं महिलाओं ने किया प्रदर्शन

महवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महवा की ग्राम पंचायत रामगढ़ के सैनी मोहल्ले में विगत कई माह से पेयजल संकट गहराया हुआ है। जिसे लेकर ग्रामीण कई बार अधिकारियों को ज्ञापन दे चुके हैं। इसके बावजूद समस्या जस की तस बनी हुई है। इसे लेकर सोमवार को एक बार फिर सैनी मोहल्ले के ग्रामीण महिला पुरुष आक्रोशित हो गए और जलदाय कार्यालय पहुंचकर मटका फोड़ प्रदर्शन किया।

बूंद-बूंद पानी के लिए तरसे
उन्होंने बताया कि कॉलोनी के लोगो को तेज गर्मी में बूंद-बूंद पानी के लिए तरसना पड़ रहा है। ऐसे में महिलाएं दूरदराज के मोहल्लों और आसपास के इलाकों से पानी लाकर रोजमर्रा की जरूरतें पूरी करने को मजबूर हैं। उन्होंने प्रशासन से नियमित जलापूर्ति की मांग की है।

उग्र प्रदर्शन की चेतावनी
इसकी जानकारी मिलते ही पूर्व प्रधान राजेंद्र मीणा भी सरपंच बनवारी लाल मीणा के साथ जलदाय कार्यालय पहुंचे और सहायक अभियंता से ग्रामीणों की समस्याओं का निदान करने की बात कही। इस पर सहायक अभियंता जलदाय विभाग ने कहा कि ग्रामीणों की समस्याओं का दो-तीन दिन में निदान कर दिया जाएगा। ग्रामीण महिलाओं ने बताया कि पेयजल समस्या का जल्द समाधान नहीं हुआ तो उग्र प्रदर्शन किया जाएगा।

नई लाइन डालने से बिगड़ा मामला
2 सप्ताह से जलापूर्ति ठप होने से परेशान सैनी मोहल्ले के लोगों ने बताया कि उनकी कॉलोनी में लंबे समय से जीएलआर से सप्लाई होती थी। लेकिन अब जनता जल योजना की नई लाइनें डाले जाने के कारण यह सप्लाई बाधित हुई है, जिसके चलते 1 सप्ताह से पानी की सप्लाई नहीं होने के कारण लोगों को पेयजल के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

खबरें और भी हैं...