• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Dausa
  • 556 Agriculture Connections Will Be Available After 8 Years Of Waiting, Now Online Electricity Bills Will Be Deposited By 'K' Number

8 साल इंतजार के बाद मिलेंगे 556 कृषि कनेक्शन:अब ‘K’ नंबर से जमा होंगे किसानों के ऑनलाइन बिजली बिल

दौसा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दौसा में बिजली निगम में किसानों के लिए जरूरी खबर सामने आई है। - Dainik Bhaskar
दौसा में बिजली निगम में किसानों के लिए जरूरी खबर सामने आई है।

दौसा जिले के सिकराय उपखण्ड क्षेत्र में जनवरी 2013 से दिसंबर 2015 के बीच आवेदन करने वाले 556 किसानों को लंबे इंतजार के बाद कृषि कनेक्शन मिलेंगे। इसके लिए सिकराय, सिकंदरा एवं गीजगढ़ के एईएन ऑफिसों ने किसानों को डिमांड नोटिस भिजवा कर राशि एवं दस्तावेज जमा करने का काम शुरू कर दिया है। कनेक्शन जारी होने के बाद किसानों को फसलों की सिंचाई की सुविधा मिलेगी।

किसानों को थ्री फेज बिजली कनेक्शन मुहैया कराने के लिए हाल ही में सरकार के निर्देश पर एईएन ऑफिस सिकराय, सिकंदरा एवं गीजगढ़ के अधीनस्थ 556 किसानों को दो चरणों में डिमांड नोटिस जारी किए गए हैं। पहले चरण के किसानों के डिमांड नोटिस जमा होने के बाद दूसरे चरण के किसानों को 10 अक्टूबर तक कनेक्शन राशि एवं जरूरी दस्तावेज जमा कराने का समय दिया गया है।

लंबे इंतजार के बाद आया नंबर

निगम द्वारा इस वित्तीय वर्ष में एक जनवरी 2013 से 31 दिसंबर 2015 तक आवेदन करने वाले सभी किसानों को डिमांड नोटिस जारी किए हैं। ये किसान कनेक्शनों के लिए कई सालों से इंतजार कर रहे थे। हालांकि 10 फीसदी किसानों ने लंबे इंतजार के बाद भी कनेक्शन नहीं मिलने की वजह से सोलर सिस्टम भी लगवा लिए।

850 किसानों को करना पड़ेगा इंतजार

बता दें कि किसानों को बिजली कनेक्शन देने की धीमी रफ्तार के चलते आवेदन के बाद कई साल का इंतजार करना पड़ता है। अभी भी 2015 के बाद आवेदन करने वाले उपखंड क्षेत्र के 850 से अधिक किसानों के कनेक्शन पेंडिंग हैं। जिनके लिए भी कई साल तक इंतजार करना पड़ सकता है।

किसानों का कहना है कि काफी इंतजार के बाद कनेक्शन मिल रहा है। बोरवैल तो नया भी खुदवा लेंगे, लेकिन यदि डिमांड नोटिस जमा नहीं कराया तो वापस कनेक्शन लेने के लिए 8-10 साल इंतजार करना पड़ेगा।

अब ‘के’ नंबर से ही जमा होंगे ऑनलाइन बिजली बिल

सिकराय उपखंड़ मुख्यालय पर राज्य बजट में नया एक्सईएन कार्यालय शुरू होने के बाद 42 हजार उपभोक्ताओं के बिजली बिलों में ‘के’ नंबर सीरीज बदल दी गई है। ऐसे में अब सभी श्रेणी के उपभोक्ताओं को इसी माह में जारी हुए बिलों में नए ‘के’ नंबर के आधार पर मोबाइल एव ई-मित्र के माध्यम से ऑनलाइन बिल जमा कराना होगा।

इसके अलावा बिजली आपूर्ति से संबंधित शिकायत भी नए नंबरों से ही दर्ज करानी होगी। उपभोक्ताओं को नए के नंबर की सीरीज के आधार पर ही ऑनलाइन बिल जमा कराने होंगे। इसके अलावा निगम के हेल्पलाइन नंबरों पर नए के नंबर से ही शिकायत दर्ज करानी होगी।

रिपोर्ट: देवेन्द्र सैंहणा