औचक निरीक्षण:जिला प्रमुख हीरालाल सैनी ने सरकारी स्कूलों में बालकों की क्लास लेकर शैक्षिक स्तर की जांच की

दौसा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला प्रमुख हीरालाल सैनी ने शनिवार को करीब छह सरकारी स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। जिला प्रमुख जनप्रतिनिधियों के साथ राजकीय माध्यमिक विद्यालय गढ़ पहुंचे,उन्होंने विद्यालय में शिक्षकों की उपस्थिति, ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन, साफ सफाई व अन्य व्यवस्थाएं देखी। औचक निरीक्षण के दौरान विद्यालय में ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन पाया गया। राजकीय सीनियर माध्यमिक
विद्यालय गढ़, राजकीय संस्कृत प्रवेशिका विद्यालय गढ़, राउमावि रानोली, राप्रावि रानोली, राजकीय प्राथमिक विद्यालय 3 आमढानी गढ़ का भी निरीक्षण किया।

विद्यालय की व्यवस्थाओं को देखकर संतोष जाहिर करते हुए जिला प्रमुख हीरालाल सैनी ने प्रधानाचार्य लटूर मल बैरवा, व.विद्यालय स्टाफ की सराहना की। विद्यालय में छात्र-छात्राओं द्वारा प्रोजेक्ट बनाना भी पाया गया। जिस पर उन्होंने विद्यार्थियों का भी मनोबल बढ़ाया। उन्होंने कक्षा 4- 5 के बालक बालिकाओं की कक्षाएं लेकर शैक्षिक स्तर की जांच की। बालक बालिकाएं जिला प्रमुख को अंग्रेजी में सवालों के फटाफट उत्तर देते नजर आए। सरकारी स्कूल में अध्ययनरत बच्चों का शैक्षिक स्तर देखकर जिला प्रमुख हीरालाल सैनी दंग रह गए। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूल का शैक्षिक स्तर निजी स्कूलों के मुकाबले बेहतर है।
प्रधानाचार्य को सफाई रखने के दिए निर्देश
जिला प्रमुख ने विद्यालय परिसर में पड़े पत्थरों व मिट्टी के ढेरों को तुरंत प्रभाव से प्रधानाचार्य को हटाए जाने के निर्देश दिए। विद्यालय प्रांगण में छोटे-छोटे बालक अध्ययन के लिए आते हैं तथा ग्राउंड में खेल घंटी में खेलने के लिए कक्षाओं से बाहर निकलते हैं। इस तरह विद्यालय ग्राउंड में पत्थरों के ढेर बालकों को चोट ग्रस्त कर देंगे। जिस पर प्रधानाचार्य ने प्रांगण से लगे खण्डों के ढेरों को उठाकर समतलीकरण कराने का आश्वासन दिया।
जिला प्रमुख ने प्रधानाचार्य को गर्मी के मौसम को देखते हुए बच्चों को वितरण किए जाने वाले मिड डे मील पोषाहार में पूरी तरह सावधानी बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मौसम को देखते हुए बच्चों को ताजा हरी सब्जियों का अधिक सेवन कराना चाहिए। साथ ही नींबू पानी शिकंजी छाछ का भी उपयोग करने की बात कही।

खबरें और भी हैं...